July 25, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

आत्मनिर्भर महिलाओं के लिए बेस्ट हैं मोदी सरकार की ये 6 योजनाएं, जानिए कैसे उठा सकेंगी फायदा


नई दिल्ली: भारत की महिलाएं किसी से कम नहीं हैं. यह बात एक बार नहीं, लाखों बार साबित हो चुकी है. बस जरूरत है तो परिवार और सरकार के सपोर्ट की. इसके लिए मोदी सरकार भी बड़े कदम उठा रही है. केंद्र सराकर ऐसी कई योजनाएं लेकर आई है, जो सिर्फ महिलाओं के लिए हैं. महिला सशक्तिकरण की दिशा में देश को आगे बढ़ाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. इसका लाभ बड़े पैमाने पर महिलाओं को मिल भी रहा है. सरकार की मंशा है कि अब महिलाओं को पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ाने की है. वैसे भी हर क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी बढ़ती जा रही है. हम आपको बताते हैं सरकार की ओर से लागू की गई उन योजनाओं के बारे में जिनका आप आसानी से लाभ उठा सकते हैं. 

ये भी पढ़ें: PM Jeevan Jyoti Bima Yojna: आपके बाद भी परिवार की सुरक्षा की होगी गारंटी, जानें कैसे

1. सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना
प्रसव के दौरान मां और बच्चे का ख्याल रखने के लिए सरकार ने इस योजना की शुरुआत की थी. सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के तहत अस्पतालों और ट्रेंड नर्सों की निगरानी के बीच महिलाओं का प्रसव किया जाता है. ताकि महिला और बच्चे की अच्छी तरह से देखभाल की जा सके. यह योजना 10 अक्टूबर 2019 से शुरू की गई थी. इसके तहत गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं के लिए बिना किसी फीस के सरकारी सुविधाएं दी जाती हैं. 

ये भी पढ़ें: आने वाली है PM Kisan Samman Nidhi की 8वीं किस्त, जानें कहां और कैसे करें चेक

2. फ्री सिलाई मशीन योजना
जिन महिलाओं की रुचि सिलाई-कढ़ाई में रही है और इस टैलेंट को प्रोफेशन में तब्दील करना चाहती हैं, उनके लिए यह योजना बहुत लाभदायक है. इस योजना का फायदा देश के ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रो की महिलाएं उठा सकती हैं. मोदी सरकार की तरफ से हर राज्य में 50 हजार से ज्यादा महिलाओं को फ्री में सिलाई मशीन दी जाने वाली है. 20 साल से 40 साल तक की महिलाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा. 

ये भी पढ़ें: क्या है मोदी सरकार की Sukanya Samriddhi Yojana, कैसे उठा सकते हैं लाभ?

3. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना
‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ योजना की शुरुआत 22 जनवरी 2015 को की गई थी. इस योजना का मकसद Girl Sex Ratio में आ रही गिरावट को रोकना है. साथ ही, बच्चियों को पढ़ाई के लिए प्रेरित कर महिला सशक्तिकरण की ओर अग्रसर करना है. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना उन महिलाओं की मदद करती है, जो घरेलू या किसी भी प्रकार की हिंसा से पीड़ित हैं. इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को यह सुविधा दी गई है कि मदद के समय वे कभी भी पुलिस, कानून और चिकित्सा जैसी सुविधाएं ले सकती हैं. बस टोल फ्री नंबर 181 पर फोन करना होगा. 

ये भी पढ़ें: आपके PAN Card के हर नंबर और अल्फाबेट में छिपी हैं आपसे जुड़ी जानकारी, जानें इनका मतलब

4. प्रधानमंत्री उज्जवला योजना
मोदी सरकार की यह योजना महिलाओं के लिए सबसे सफल उज्जवला योजना है. 1 मई 2016 को उत्तर प्रदेश के बलिया से इस योजना की शुरुआत की गई थी. इस योजना की मदद से आर्थिक रूप से कमजोर गृहणियों को गैस सिलेंडर उपलब्ध कराए जाते हैं. जानकारी के मुताबिक, अब तक भारत में 8.3 करोड़ परिवारों को इस योजना के तहत फायदा मिला है. बता दें, इस साल की बजट घोषणा में भी फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने 1 करोड़ और लाभार्थियों को इस योजना का लाभ पहुंचाने की बात कही है.

ये भी पढ़ें: घर बैठे केवल 10 मिनट में बनवा सकते हैं PAN Card, है एकदम फ्री और आसान

5. समर्थ योजना
मोदी सरकार की समर्थ योजना एक महत्वाकांक्षी योजना है. इस योजना के तहत जरूरतमंद महिलाओं को अलग-अलग प्रकार के वस्त्र उत्पादन के गुर और उससे जुड़े कार्यों बारे में सिखाया जा रहा है. इसकी मदद से महिलाएं वस्त्र उद्योग में जान फूंक सकें. इससे न केवल ग्लोबल टेक्स्टाइल बिजनेस में भारत की हिस्सेदारी बढ़ेगी, बल्कि इसका फायदा महिलाओं को भी मिलेगा.

ये भी पढ़ें: Interesting Fact: कितना भी जरूरी हो, रात में पोस्टमॉर्टम नहीं करते डॉक्टर्स, जानें क्या है वजह

6. सुकन्या समृद्धि योजना
इस योजना की शुरुआत 22 जनवरी 2015 को की गई थी. यह स्कीम 10 साल से कम उम्र की बच्चियों को उच्च शिक्षा देने और उनकी शादी कराने के लिए शुरू की गई थी. इसके तहत बच्चियों का सुरक्षित भविष्य निश्चित कराया जाता है. किसी भी बैंक और पोस्ट ऑफिस में जाकर परिजन अपनी 10 साल की बेटी के लिए खाता खुलवा सकते हैं. 

WATCH LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: