पेंशनर्स के लिए EPFO की खास पहल! घर बैठे मिलेगी हर जानकारी, ऑफिसों के नहीं लगाने होंगे चक्कर


नई दिल्ली: Provident Fund News: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने अपने लाखों पेंशनधारकों (Pensioners) के लिए बड़ी राहत का ऐलान किया है. अब रिटायर हुए कर्मचारियों को अपनी पेंशन से जुड़ी जानकारियों के लिए PF ऑफिस के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे. EPFO ने अपने पोर्टल पर पेंशनर्स के लिए कई सुविधाएं सुविधाएं दी हैं. 

जीवन प्रमाण पत्र की हर जानकारी मिलेगी

पेंशनर्स को अपने जीवन प्रमाण पत्र से जुड़ी हर जानकारी अब EPFO के पोर्टल पर मिल जाएगी. उन्हें इसके लिए ऑफिसों के चक्कर लाने की जरूरत नहीं होगी. दरअसल हर साल नवंबर और दिसंबर महीने में EPFO पेंशनधारकों को अपना जीवन प्रमाण पत्र EPFO कायार्लय या बैंक में जमा कराना होता है. 

ये भी पढ़ें- Home Loan पर माफ होगी 6 EMI! LIC हाउसिंग फाइनेंस ने शुरू की बुजुर्गों के लिए नई स्कीम

PPO नंबर को भी जानें

रिटायरमेंट के बाद कर्मचारियों को पेंशन PPO नंबर के जरिए ही मिलती है. PPO नंबर एक 12 डिजिट का एक रेफरेंस नंबर होता है. जो सेंट्रल पेंशन अकाउंटिंग ऑफिस को कोई भी कम्युनिकेशन करने के लिए होता है. PPO नंबर पेंशनर की पासबुक में दर्ज होना जरूरी है. PPO नंबर हर मोड़ पर काम आता है, जैसे अगर पेंशनर अपना अकाउंट बैंक की एक ब्रांच से दूसरी ब्रांच में ट्रांसफर करना चाहता है तो PPO की जरूरत होती है. अब कर्मचारी पोर्टल से यह इसकी पूरी जानकारी ले सकेंगे. PF नंबर या रजिस्टर्ड बैंक अकाउंट नंबर डालने पर PPO नंबर मिल जाएगा. 

पेंशन के बारे में जानकारी मिलेगी

किसी कर्मचारी की पेंशन से जुड़ी हर छोटी और बड़ी जानकारी इस पोर्टल पर मिल जाएगी. उन्हें ऑफिस जाने या फिर किसी को फोन करने की जरूरत नहीं होगी. 

आपको बता दें कि अब पेंशनर्स को जीवन प्रमाण पत्र लेने के लिए आधार कार्ड की आवश्यकता भी नहीं पड़ेगी. संदेश एप और सरकारी ऑफिस में अटेंडेंस लगाने के लिए भी आधार प्रमाणीकरण को स्वैच्छिक कर दिया है. सरकार ने एक आदेश जारी किया, इसमें संगठनों को जीवन प्रमाण-पत्र देने के लिए वैकल्पिक तरीके निकालने के लिए कहा गया है. 

जीवन प्रमाण पत्र पेंशनरों के लिए एक जरूरी हिस्सा बन गया है. इसकी शुरुआत तब हुई जब बुजुर्गों को अपनी पेंशन लेने के लिए जीवित होने का प्रमाण देने के लिए परेशान होना पड़ता था. यहां तक की जहां नौकरी करते थे, वहां से जीवन प्रमाणपत्र लाकर पेंशन वितरण एजेंसी को देना होता था. डिजिटल सुविधा के बाद पेंशनर्स की दिक्कतें कम जरूर हुईं लेकिन कई पेंशनर्स के पास आधार कार्ड नहीं होने से उन्हें पेंशन मिलने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था. क्योंकि एक वक्त के बाद उनके अंगूठे के निशान मेल नहीं खा रहे थे. 

यहां से पाएं जीवन प्रमाण पत्र का स्टेटस

पेंशनर्स इस लिंक को https://mis.epfindia.gov.in/PensionPaymentEnquiry/ को ओपन कर पोर्टल पर जीवन प्रमाण पत्र, पेमेंट संबंधी जानकारी और अपने पेंशन स्टेटस के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- Petrol Price Today 26 March 2021 Updates: आज नहीं बदले पेट्रोल-डीजल के दाम, 91 रुपये के नीचे आया Petrol

LIVE TV
 



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *