मां-माटी-मानुष की बात करने वालीं ममता ने सियासी दांवपेंच के बीच अब खेला ‘गोत्र कार्ड’


नई दिल्ली: आज पश्चिम बंगाल (West Bengal) में दूसरे चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार खत्म हो गया है. चुनावी दांवपेंच के बीच ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने वालों को घटिया बताने वाली पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने ‘गोत्र कार्ड’ (Gotra Card) खेल दिया. मंगलवार को नंदीग्राम में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘मुझसे पुरोहित ने पूछा कि आपका गोत्र क्या है? मैंने कहा मेरा गोत्र मां-माटी-मानुष है लेकिन आज जब मुझसे पूछा गया तो मैंने कहा कि पर्सनल गोत्र शांडिल्य है लेकिन मैं समझती हूं कि मेरा गोत्र मां-माटी-मानुष है.’

दीदी ने कहा- नंदीग्राम को मॉडल नंदीग्राम बनाऊंगी

ममता बनर्जी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘अभी से कह रहे हैं कि 30 में से 26 सीटें मिलेंगी. मैं पूछना चाहती हूं कि ऐसा क्या किया है बीजेपी ने? हमने जमीन पर लड़ाई लड़ी है, मैं नंदीग्राम को मॉडल नंदीग्राम बनाऊंगी.’

ये भी पढ़ें- अमित शाह ने उठाया महिला सुरक्षा का मुद्दा, कहा- ममता दीदी के घर से 5KM के दायरे में हुआ रेप

 

शुवेंदु अधिकारी बोले- उल्टी-सीधी बातें कर रहीं ममता

ममता बनर्जी पर पलटवार करते हुए BJP नेता शुवेंदु अधिकारी ने कहा कि पिछले 10 साल में काम किया या नहीं इसका कोई रिपोर्ट कार्ड नहीं है उनके पास. इसलिए काम की बातें छोड़कर वो उल्टी-सीधी बातें कर रही हैं. उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को सब पता है इसलिए यहां 8 चरणों में मतदान हो रहे हैं. जल्द ही दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. 

ये भी पढ़ें- Corona: पंजाब सरकार के रवैया से स्वास्थ्य मंत्रालय नाराज, इस बात के लिए लगाई फटकार

इससे पहले रविवार को ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में शुवेंदु अधिकारी पर निशाना साधते हुए कहा था कि वह यहां अपनी मनमानी कर रहे हैं, लेकिन मैं उन्हें शेर की तरह जवाब दूंगी. ममता ने कहा जो लोग संस्कृति से प्यार नहीं कर सकते वह यहां राजनीति नहीं कर सकते. नंदीग्राम में गुंडागर्दी हो रही है. हमने बीरुलिया में बैठक की, टीएमसी कार्यालय को तोड़ दिया गया. वह (शुवेंदु आधिकारी) जो चाहे कर रहा है. मैं गेम भी खेल सकती हूं. मैं भी शेर की तरह जवाब दूंगी. मैं रॉयल बंगाल टाइगर हूं.

1 अप्रैल को 4 जिलों में मतदान

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल विधान सभा के लिए दूसरे चरण के चुनाव में प्रचार अभियान मंगलवार शाम को खत्म हो गया. दूसरे चरण में 1 अप्रैल को चार जिलों के 30 निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान होना है.

चुनाव आयोग के सूत्रों ने कहा कि इस चरण में 75,94,549 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे और 171 उम्मीदवारों का राजनीतिक भविष्य तय करेंगे. दूसरे चरण में 10,620 मतदान केंद्रों पर मतदान कराए जाएंगे.

कड़ी सुरक्षा के बीच होंगे मतदान

सूत्रों ने कहा कि चुनाव आयोग ने दूसरे चरण के सभी मतदान केंद्रों को ‘संवेदनशील’ घोषित किया है. उन्होंने बताया कि इस चरण में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की कुल 651 कंपनियां तैनात की जाएंगी. इस चरण में बांकुड़ा (भाग दो), पूर्व मेदिनीपुर (भाग एक), पश्चिम मेदिनीपुर (भाग दो) और दक्षिण 24 परगना (भाग एक) में मतदान होंगे.

सूत्रों ने बताया कि पूर्व मेदिनीपुर में सीएपीएफ की कुल 199 कंपनियां तैनात की जाएंगी जबकि पश्चिम मेदिनीपुर में 210 कंपनियां, दक्षिण 24 परगना में 170 और बांकुड़ा में 72 कंपनियां तैनात की जाएंगी.



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *