MP में कोरोना मरीजों के लिए नई गाइडलाइन जारी, यहां जानिए पूरी जानकारी


भोपालः मध्य प्रदेश में तेजी से कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं. आज फिर प्रदेश में कोरोना 2173 मरीज मिले हैं. इस बीच मध्य प्रदेश में कोरोना मरीजों के लिए प्रदेश सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है. अब गंभीर मरीजों का इलाज अस्पतालों में किया जाएगा, जबकि कम लक्षण वाले मरीजों को कोविड सेंटर भेजा जाएगा. इसके अलावा सरकार ने होम आइसोलेशन के नियमों में बदलाव किया है. 

गंभीर मरीजों को अस्पतालों मिलेंगे बेड 
नई गाइडलाइन में निर्देश दिए गए हैं कि अब कोरोना के गंभीर मरीजों को प्राथमिकता के आधार पर अस्पतालों में बेड उपलब्ध कराए जाएंगे. जबकि कम लक्षण वाले मरीजों का इलाज केविड सेंटर में ही किया जाएगा. इसके अलावा अगर किसी व्यक्ति की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आती है, लेकिन 10 दिन तक उसमें कोविड के लक्षण नहीं दिखते या फिर  3 दिन तक बुखार भी नहीं आता तो उसकी होम आइसोलेशन की अवधि समाप्त की जाएगी, लेकिन रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे एक सप्ताह तक घर में ही रहना होगा. 

60 साल के मरीज होम आइसोलेशन रह सकेंगे 
नई गाइडलाइन के मुताबिक जिन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, उनमें लक्षण दिखाई नहीं देते हैं. भले ही उनकी उम्र 60 साल से ज्यादा है तो उन्हें होम आइसोलेशन में ही रखा जाएगा. हालांकि कोविड सेंटर के जरिए उनकी निगरानी भी की जाएगी. होम आइसोलेशन में मरीज को 7 तरह की गोलियां रखनी जरूरी रहेगी. हालांकि यह गोलियां प्रशासन की तरफ से उपलब्ध कराई जाएगी.  इसके अलावा होम आइसोलेशन के दौरान अगर मरीज में कोरोना के लक्षण दिखाई देने शुरू हो जाते हैं तो उसे तत्काल कोविड सेंटर में भर्ती कराया जाएगा. जबकि स्थिति बिगड़ने पर अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा. 

ये भी पढ़ेंः इंदौर में तेजी से बढ़ रहा कोरोना, अब शहर में हर दिन इतने लोगों को लगाई जाएगी वैक्सीन

सीएम ने की कोरोना की समीक्षा बैठक 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज फिर कोरोना की समीक्षा बैठक की. मुख्यमंत्री ने संभाग स्तर पर मरीजों के लिए अस्पतालों में बेड संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए है. उन्होंने कहा कि प्रदेश के करीब एक तिहाई जिलों में संक्रमण ज्यादा होने के नाते उन जिलों के संभागीय मुख्यालय पर जरूरी उपचार प्रबंध सुनिश्चित किया जाए. इन जिलों में संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए संभागीय आयुक्त आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित करें. इसके साथ ही वैक्सीनेशन की गति भी बढ़ाई जाए. बैठक में बताया गया कि प्रदेश में 29 मार्च तक 32 लाख 35 हजार नागरिक वैक्सीन डोज लगवा चुके हैं. सीएम शिवराज ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने प्रभार के जिलों का भ्रमण कर कोरोना के उपचार एवं अन्य व्यवस्थाओं को देखें और आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित करें. सीएम ने कहा कि इस वक्त किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए. 

MP में फिर मिले कोरोना के 2173 नए मरीज 
वहीं आज शाम को जारी किए गए बुलेटिन में कोरोना के 2173 नए मरीज मिले हैं. जिनमें सबसे ज्यादा 628 मरीज इंदौर में और 497 मरीज भोपाल में मिले हैं. वहीं जबलपुर में भी कोरोना के 148 नए मरीज मिले हैं. जिससे प्रदेश में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 16031 हो गई है. 

ये भी पढ़ेंः इंदौर में तेजी से बढ़ रहा कोरोना, अब शहर में हर दिन इतने लोगों को लगाई जाएगी वैक्सीन

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *