मध्य प्रदेश के इन 7 जिलों में सभी स्कूल-कॉलेज 15 अप्रैल तक बंद, वैक्सीनेशन तेज करने के निर्देश


भोपाल: मध्य प्रदेश में काेरोना कंट्रोल के लिए शिवराज सरकार ने कुछ और सख्ती बरतने का फैसला किया है. भोपाल, इंदौर, जबलपुर, बैतूल, छिंदवाड़ा, खरगौन व रतलाम जिले में स्कूल-कॉलेज 15 अप्रैल तक बंद रहेंगे. गृह विभाग ने इस संबंध में बुधवार देर शाम आदेश जारी कर दिया. इसके अलावा प्रदेश में 15,482 बेड भी बढ़ाए जाएंगे.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी जिलों के कलेक्टर, एसपी, डिविजनल कमिश्नर, मेडिकल कॉलेजों के डीन, सीएमएचओ के साथ कोरोना के वर्तमान हालातों व इससे निपटने की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की. 

मोदी सरकार ने छोटी बचत पर ब्याज दरें घटाने का फैसला पलटा, दिग्विजय सिंह ने की ये मांग

बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि 12 शहरों में संडे लॉकडाउन (शनिवार रात 10 से सोमवार सुबह 6 बजे तक) जारी रहेगा. अन्य किसी जिले में संडे लॉकडाउन की जरूरत है या नहीं इसका निर्णय संबंधित जिलों के कलेक्टर लेंगे. मुख्यमंत्री ने सभी जिला अस्पतालों में बेड की व्यवस्था का जायजा लिया.

वर्तमान में राज्य में आइसोलेशन, ऑक्सीजन और आईसीयू बेड की संख्या 20,139 है, जिसे बढ़ाकर अब 35,621 (आइसोलेशन, ऑक्सीजन और आईसीयू) किया जाएगा.

इस समय रोज खाना शुरू कर दें केवल 5 लौंग, शादीशुदा पुरुषों को मिलेंगे गजब के फायदे!

भोपाल में 3,985 से बढ़ाकर 6,000 बेड किए जाएंगे. वहीं, इंदौर में बेड 4,886 से बढ़ाकर 10,000 किए जाएंगे. उन्होंने जिन जिलों में कोरोना संक्रमण ज्यादा है वहां वैक्सीनेशन तेज करने का निर्देश दिया. भोपाल में हर रोज 45 हजार और इंदौर में 50 हजार लोगों को वैक्सीन लगाने का टारगेट रखा गया है.

महाराष्ट्र से आने-जाने वाली बसों पर लगा प्रतिबंध 15 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया है. इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि यह प्रतिबंध 30 अप्रैल तक रहेगा. 

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *