August 2, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

मधुपुर उपचुनाव में जीत के लिए CM हेमंत ने बनाई ‘रणनीति’, क्या BJP लगाएगी हार की हैट्रिक?


Madhupur: झारखंड में मधुपुर विधानसभा का उपचुनाव बेहद रोचक और दिलचस्प होता जा रहा है. जैसे-जैसे मतदान की तारीख करीब आ रही है. चुनावी ट्विस्ट भी बढ़ने लगा है. पक्ष और विपक्ष की तरफ से मजबूत घेराबंदी भी देखने को मिल रहा है. साथ ही उपचुनाव को लेकर दोनों तरफ से जुबानी जंग भी तेज होती जा रही है. चुनाव जीतने के लिए दोनों तरफ के गठबंधन रणनीति बनाने में जुटे हुए हैं. साथ ही, प्रचार-प्रसार भी तेज होता जा रहा है.

17 अप्रैल को डाल जाएंगे वोट
बता दें कि 17 अप्रैल को मधुपुर (Madhupur Vidhansabha Bypoll 2021) में मतदान होना है और 2 मई को नतीजे आने हैं. यहां उपचुनाव के लिए सत्ताधारी दल जेएमएम (JMM) ने दिवंगत मंत्री हाजी हुसैन अंसारी  (Haji Hussain Ansari) के बेटे मंत्री हफीजुल हसन (Hafizul Hasan) को उम्मीदवार बनाया है, तो बीजेपी ने आजसू (AJSU) से आए गंगा नारायण (Ganga Narayan) को मैदान में उतारा है. 

CM हेमंत ने सहयोगियों के साथ बैठकर बनाई जीत की ‘रणनीति’
इन दो दिग्गजों के मैदान में उतरने से मामला रोचक और दिलचस्प हो गया है. लोगों का दिलचस्पी अब इस बात में है कि बीजेपी की तरफ गंगा बहेगी या जेएमएम के हफीजुल के हक में गोलबंदी होगी. दोनों तरफ के नेता अपने-अपने उम्मीदवार के पक्ष में माहौल बनाने में जुटे हैं. वहीं, हफीजुल की जीत सुनिश्चित करने को लेकर मुख्यमंत्री आवास में सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) की अध्यक्षता में UPA की बैठक हुई.

ये भी पढ़ेंबंगाल पर है सबकी नजर लेकिन असली ‘खेला’ तो मधुपुर में होगा! जानिए कैसे

‘महागठबंधन की होगी जीत’
इस बैठक में वाम दल के नेता भी शामिल हुए. सभी ने मिलकर उपचुनाव जीतने की रणनीति बनाई. बैठक में उपचुनाव के कोर्डिनेशन पर विस्तार से चर्चा हुई और कोर्डिनेशन कमेटी का गठन किया गया. इधर, बैठक के बाद सीपीआई माले नेता जनार्दन प्रसाद ने कहा कि मधुपुर में जीत की गारंटी करने के लिए वाम दल वहां काम करेगें और बीजेपी को रोकेंगे. 

वहीं, जेएमएम (JMM) महासचिव विनोद पांडे ने कहा कि इस राज्य में दो उपचुनाव के परिणाम से बीजेपी को सबक लेना चाहिए. बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य की जनता के विपरीत काम करेगें तो उनका हश्र बेरमो और दुमका जैसा होगा. जानकारी के अनुसार, शनिवार को भी मधुपुर में कोर्डिनेशन कमेटी की बैठक होगी.   इस बैठक में बीजेपी की रणनीति को कैसे फेल करें उस पर चर्चा हुई और रणनीति बनी. मधुपुर विधानसभा उपचुनाव के बारे में वित्तमंत्री और कांग्रेस के रामेश्वर उरांव ने कहा कि मधुपुर उप चुनाव को लेकर सीएम की अध्यक्षता में बैठक हुई. सभी लोग चुनाव में जुटेगें और जीत सुनिश्चित करेगें.

ये भी पढ़ें- मधुपुर उपचुनाव को लेकर छिड़ा सियासी संग्राम, इरफान अंसारी और निशिकांत दुबे आमने-सामने

‘BJP को पता है कि वो चुनाव हार रही है’
इधर, RJD कोटे से मंत्री सत्यानन्द भोक्ता ने कहा, ‘मधुपुर उपचुनाव की तैयारी पर चर्चा हुई, हमें मजबूती से चुनाव लड़ना है और जब ईवीएम खुलेगा तो सिर्फ जेएमएम निकलेगा. बीजेपी पर निशाना साधते हुए मंत्री ने कहा कि ‘विपक्ष ने तो पैराशूट से उम्मीदवार दिया है, क्योंकि उनको पता है वो चुनाव हार रहे हैं, नहीं तो पार्टी से उम्मीदवार देते.’ वहीं, गठबंधन के उम्मीदवार पर विश्वास जताते हुए सत्यानन्द भोक्ता ने कहा कि हाजी हुसैन अंसारी के सहानुभूति की लहर वहां दिखेगी और जेएमएम उम्मीदवार चुनाव जीतेंगे. 

महागठबंधन के प्रति एकजुटता दिखाते हुए झारखंड कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष राजेश राठौर ने कहा कि ‘ ये महागठबंधन की सीट है. जो उपचुनाव हो रहा है इससे जिन लोगों ने डेढ़ साल पहले हाजी साहब के लिए वोट किया था वो लोग फिर से उनके बेटे के लिए वोट करेगें. मधुपुर में भी बीजेपी दुमका (Dumka) और बेरमो (Bermo) की तरह हार की हैट्रिक लगाएगी.

 





Source link

%d bloggers like this: