August 2, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Corona Update Today: देश में आए 93 हजार से ज्यादा नए केस, 513 की मौत; दिल्ली के अस्पतालों में कोरोना के मरीज बढ़े


नई दिल्ली: भारत में पिछले 24 घंटे में COVID-19 के 93,249 नए मामले मिले हैं. इसके साथ ही कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,24,85,509 हो गई है. 513 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,64,623 तक पहुंच गई है. देश में एक्टिव कोरोना मामलों की कुल संख्या 6,91,597 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,16,29,289 है. राजधानी दिल्ली में अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. 

लगातार 25वें दिन बढ़ोतरी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे तक जारी आंकड़ों के अनुसार 19 सितंबर के बाद से कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के एक दिन में सामने आए ये सबसे अधिक मामले हैं. 19 सितंबर को कोविड-19 के 93,337 मामले आए थे. मंत्रालय ने बताया कि संक्रमण के मामलों में लगातार 25वें दिन वृद्धि दर्ज की गई है. देश में अब भी 6,91,597 मरीज Covid-19 का इलाज करा रहे हैं जो संक्रमण के कुल मामलों का 5.54 प्रतिशत है. स्वस्थ होने वाले लोगों की दर गिरकर 93.14 प्रतिशत रह गई है.

इस तरह बढ़ा ग्राफ

देश में 12 फरवरी को सबसे कम 1,35,926 लोग संक्रमित थे जो संक्रमण के कुल मामलों का 1.25 प्रतिशत था. भारत में कोविड-19 के मामले 7 अगस्त को 20 लाख का आंकड़ा पार कर गए थे. इसके बाद संक्रमण के मामले 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के पार चले गए थे. वैश्विक महामारी के मामले 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ का आंकड़ा पार कर गए थे.

अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ी

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों में अधिक वृद्धि होने से तमाम अस्पतालों में एडमिट होने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है. लोक नायक जय प्रकाश नारायण (LNGP) अस्पताल के प्रशासन ने कहा कि अधिक संख्या में कोरोना वायरस से संक्रमित लोग अस्पतालों में भर्ती हो रहे हैं. LNGP में चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉ. रितु सक्सेना ने कहा, ‘अस्पताल में पिछले तीन से चार दिनों में एडमिट हो रहे मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई है. इस वक्त अस्पताल में भर्ती हो रहे मरीजों में से अधिकतर की हालत गंभीर है.’

महामारी की चौथी लहर

राष्ट्रीय राजधानी में पिछले तीन हफ्तों में महामारी के मामलों में काफी बढ़ोतरी देखी गई है. बीते 24 घंटे में 3,500 से अधिक मामले दर्ज हुए हैं. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने इस बात को स्वीकार किया है कि शहर महामारी की चौथी लहर का सामना कर रहा है, हालांकि पिछले दिनों उन्होंने लॉकडाउन (Lockdown) लागू करने की बात से इंकार कर दिया.

इतने लोगों का हुआ टेस्ट

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक भारत में कल (शनिवार) तक कोरोना वायरस (Coronavirus) के लिए कुल 24,81,25,908 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 11,66,716 सैंपल कल टेस्ट किए गए. वायरस के खिलाफ लड़ाई में वैक्सीनेशन अभियान जारी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अब तक देश में कुल 7,59,79,651 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन (Corona Vaccine) लगाई जा चुकी है.

हेल्थकेयर वर्कर्स का अब रजिस्ट्रेशन नहीं

हेल्थकेयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स की श्रेणियों में फर्जी तरीके से रजिस्ट्रेशन कराए जाने की खबरें सामने आने के बाद केंद्र सरकार ने तत्काल प्रभाव से इनके नए रजिस्ट्रेशन पर रोक लगा दी है. राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे एक पत्र में स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा कि कुछ अयोग्य लाभार्थियों को स्वास्थ्य सेवा और फ्रंटलाइन वर्कर्स के रूप में पंजीकृत किया जा रहा है और निर्धारित दिशानिर्देशों का पूरी तरह से उल्लंघन करते हुए टीकाकरण किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: Akshay Kumar हुए कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट सामने आते ही फैंस परेशान

24% तक बढ़े रजिस्ट्रेशन

कुछ दिनों में स्वास्थ्यसेवा कर्मियों के डेटाबेस में 24% तक की वृद्धि देखी गई है. इसके मद्देनजर ये फैसला लिया गया है कि इन दोनों श्रेणियों में अब रजिस्ट्रेशन बंद कराया जाएगा. को-विन पोर्ट पर 45 वर्ष या इससे अधिक आयु के व्यक्तियों के पंजीकरण की अनुमति दी जाएगी. स्वास्थ्य सचिव ने पत्र में लिखा है, ‘मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि इस नीतिगत निर्णय के व्यापक प्रसार के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया जाए. बहरहाल, इन श्रेणियों में पहले से ही पंजीकृत कर्मियों का टीकाकरण जल्द से जल्द सुनिश्चित किया जाना चाहिए.

(INPUT: भाषा, IANS)

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: