July 25, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

दिलचस्प: प्रधानी में भोजपुरी डायरेक्टर को टक्कर देने चुनावी मैदान में उतरीं आशा किन्नर


अजीत सिंह/जौनपुर: जौनपुर जनपद में हो रहे जिला पंचायत सदस्य के लिए चुनाव लड़ने वालों में कई दिग्गजों ने ताल ठोक रखी है. जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए अभी पूर्व मिस इंडिया रनर अप रहीं दीक्षा सिंह और पूर्व कैबिनेट मंत्री व मिनी मुलायम कहे जाने वाले स्व. पारसनाथ यादव की बहू उर्वशी सिंह चुनावी मैदान में हैं. वहीं अब जिले के मीरगंज क्षेत्र की करियांव ग्राम पंचायत अब चर्चा में है. इस ग्राम पंचायत से प्रधान पद के लिए भोजपुरी फिल्म निर्माता पिंटू सिंह और आशा किन्नर ने पर्चा दाखिल किया है. दोनों के नामांकन के बाद में गांव में सरगर्मी तेज हो गई है. दोनों वोटर्स को साधने में जुटे हैं. 

UP Panchayat Chunav 2021: यहां देखिए, आचार संहिता की पूरी ABCD

15 साल से मुंबई में रहकर भोजपुरी फिल्मों के निर्माता के रूप में काम कर रहे करियांव गांव निवासी पिंटू सिंह ने गईल भैंसिया पानी में, बजरंग, पागल दिलवा, गांव की गंगा व पायल जैसी भोजपुरी फिल्में बनाई हैं. उनके नामांकन के बाद गांव के चुनाव में कलाकारों के भी पहुंचने की चर्चा है.

परदादा ने हराया था चौधरी चरण सिंह को चुनाव, लंदन रिटर्न परपोती लगा रही है पंचायत चुनाव में दांव

मार्केट में महिलाओं के लिए शौचालय प्राथमिकता- पिंटू सिंह
चुनाव लड़ रहे पिंटू सिंह का कहना है कि मैं मुंबई में रहकर फिल्म बनाता हूं और गांव आकर देखा कि यहां पर बहुत सी समस्याएं हैंय सबसे बड़ी समस्या हमारे यहां मार्केट में महिलाएं आती हैं, लेकिन एक भी सुलभ शौचालय नहीं है. मेरी प्राथमिकता होगी कि पहले वहां पर शौचालयों का निर्माण कराया जाए. यहां बिजली-पानी की व्यवस्था नहीं है. इन सब मुद्दों को लेकर चुनाव लड़ने का मन बनाया है. अपनी प्रतिद्वंद्वी प्रत्याशी के बारे में उन्होंने कहा कि यह पिछली बार चुनाव में भी मैदान में आई थीं, वह भी अपनी जगह सही हैं. सबको चुनाव लड़ने का अधिकार है. मैं इसमें कोई भी कमेंट नहीं कर सकता हूं.

UP Panchayat Chunav 2021: ‘जवन मजा बा प्रधानी में, उ कहां फिल्म कहानी में’;  जौनपुर में ग्लैमरस चुनाव

गांव का विकास, लोगों का उद्धार हमारी प्राथमिकता- आशा
वहीं दूसरी तरफ किन्नर समाज से ताल्लुक रखने वाली प्रत्याशी आशा का कहना है कि गांव को लेकर यहां गरीबों में विकास कभी नहीं मिलता है. लोग यहां आते हैं, कल दूसरी जगह चले जाते हैं. कोई समझने वाला नहीं है. हम इसलिए आए हैं कि गरीबों के साथ मिलकर उनकी सहायता करेंगे. जो विकास का कार्य क्षेत्र में आता है. वह सब उनको मिलना चाहिए, यही हमारी प्राथमिकता है. फिल्म निर्माता से हमारी कोई प्रतिद्वंदिता नहीं है बल्कि वह हमारे जजमान हैं. हमारी किसी से कोई लड़ाई नहीं है, क्षेत्र की जनता हमारे साथ है.

WATCH LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: