July 30, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

बिहार: SHO के परिजनों ने शव लेने से किया मना, उच्च स्तरीय जांच की मांग की


Kishanganj: बिहार के किशनगंज सीमा से सटे पश्चिम बंगाल में ग्वालपोखर थाना क्षेत्र के पांतापाड़ा गांव में एक चोरी के मामले में शनिवार की सुबह आरोपी को पकड़ने गई पुलिस टीम पर भीड़ ने हमला कर दिया, इसमें किशनगंज के थाना प्रभारी (SHO) अश्विनी कुमार की मौत हो गई. घटना की जानकारी देते हुए पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि किशनगंज सदर के थाना प्रभारी अश्विनी कुमार सदर थाना क्षेत्र में बाइक चोरी की घटना की जांच के क्रम में एक आरोपी को पकड़ने ढेकसारा के पास एक गांव पहुंचे हुए थे. यहां के लोगों ने चोरी के आरोपी का घर पश्चिम बंगाल के पांतापाड़ा बता दिया.

इसके बाद पुलिस की टीम जैसे ही उस गांव में पहुंची, लोगों ने उन्हें घेर लिया. आसपास के लोग भी वहां जमा हो गए. इतने में पुलिस टीम भी खुद को बचाने में जुट गई. लोगों के हमले में मौके पर ही थाना प्रभारी की मौत हो गई. पूर्णिया प्रक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक सुरेश कुमार चौधरी ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि ‘शव को पुलिस ने कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. मृतक पुलिस अधिकारी पूर्णिया के जानकीनगर के रहने वाले थे. घटना के बाद पुलिस घटनास्थल पहुंच गई है.’ चैधरी ने बताया कि ‘आारोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.’

ये भी पढ़ें: Bihar: सरकार कोराना गाइडलाइन बनाने में व्यस्त, अधिकारी नियमों की हवा निकालने में मस्त!

 

शहीद अश्विनी कुमार को पुलिस लाइन में गार्ड ऑफ ऑनर के साथ अंतिम विदाई दी गई. पूर्णिया जिले के जानकी नगर थाना क्षेत्र के आजाद चौक स्थित पैतृक गांव में थाना अध्यक्ष का अंतिम संस्कार किया जाएगा. बंगाल के इस्लामपुर अस्पताल से शाहिद थाना अध्यक्ष के पार्थिव शरीर किशनगंज के पुलिस लाइन पहुचते ही उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लग गया. पुलिस के जवानों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर देकर सलामी देते हुए श्रद्धांजलि दी.

ये भी पढे़ं- Bihar में बढ़ रहे Corona के मामले, प्रशासन भी नहीं दिख रहा मुस्तैद

वहीं, परिजनों ने इसे हत्या मानकर शव लेने से मना कर दिया. पूर्णिया रेंज के आई जी सुरेश कुमार चौधरी के आश्वाशन के बाद ही परिजन शहीद के पार्थिव शरीर को लेकर रवाना हुए. परिजनों ने मामले पर सवालिया निशान खड़े कर उच्च स्तरीय जांच की मांग की है. इधर, एनडीए के उपमुख्य सचेतक डॉ दिलीप कुमार जायसवाल ने कहा कि उन्होंने मामले को सीएम नीतीश कुमार से अवगत कराया है. सीएम ने दुख प्रकट करते हुए कहा कि परिजनों को मिलने वाला मुआवजे की जल्द घोषणा करेंगे. साथ ही कहा कि शहीद इंस्पेक्टर के हत्यारों को किसी भी परिस्थिति में बचने नहीं दिया जाएगा.

(इनपुट: अमित) 





Source link

%d bloggers like this: