July 26, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

आज से देश में ‘टीका उत्सव’, पीएम Narendra Modi के निर्देश के बाद Corona Vaccination तेज करने की मुहिम


नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के निर्देश पर देश में 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक ‘टीका उत्सव’ का आयोजन किया जाएगा. इसका उद्देश्य अधिकतम योग्य लाभार्थियों का टीकाकरण करना है. ‘टीका उत्सव’ के दौरान उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे कई राज्य योग्य लोगों से टीका लगवाने की अपील कर रहे हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने भी लोगों से अपील की है कि ‘टीका उत्सव’ के दौरान बड़ी संख्या में वे टीका लगवाएं.

वैक्सीनेशन में नंबर 1 हुआ भारत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि भारत ने 85 दिन में 10 करोड़ टीके लगाए हैं और वह दुनिया का सबसे तेज टीकाकरण अभियान चलाने वाला देश बन गया है. मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका (US) को टीके की 10 करोड़ डोज देने में 89 दिन लगे जबकि चीन (China) को इस आंकड़े तक पहुंचने में 102 दिन लग गए. प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने भी भारत में सबसे तेज टीकाकरण को दर्शाने वाला एक चार्ट ट्वीट किया और इसे ‘ स्वस्थ एवं कोविड मुक्त भारत (Healthy and Covid-19 free India) के लिए मजबूत प्रयास करार दिया.’

ये भी पढ़ें- UP: Corona की रोकथाम के लिए CM योगी ने उठाया कदम, धार्मिक स्थलों को लेकर किया बड़ा ऐलान

समीक्षा बैठक में पीएम का निर्देश

कोविड-19 (covid-19) की स्थिति और टीकाकरण अभियान की बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्रियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे अपील की थी कि उन सभी लोगों का टीकाकरण कराने पर ध्यान केंद्रित करें जो 45 वर्ष से अधिक उम्र के हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘कभी-कभी इससे माहौल बदलने में मदद मिलती है. ज्योतिबा फुले की जयंती 11 अप्रैल को है और 14 अप्रैल को बाबा साहेब की जयंती है. क्या हम ‘टीका उत्सव’ का आयोजन कर सकते हैं और ‘टीका उत्सव’ का माहौल बना सकते हैं?’

ये भी पढ़ें- Maharashtra से Delhi जाने का है प्लान तो पहले पढ़ लें DDMA की नई गाइडलाइन, वरना होगी परेशान

‘राज्यों के आरोप पर जवाब’

मोदी ने कहा था, ‘हमें विशेष अभियान के माध्यम से अधिक से अधिक योग्य लाभार्थियों का टीकाकरण करना चाहिए और इसकी बर्बादी बिल्कुल नहीं हो इस पर विचार करना चाहिए. ‘टीका उत्सव’ के दौरान अगर चार दिनों में बर्बादी नहीं होगी तो इससे हमारे टीकाकरण की क्षमता बढ़ेगी.’ कुछ राज्यों ने जहां टीके की आपूर्ति में ‘कमी’ का मुद्दा उठाया वहीं केंद्र ने कहा है कि सभी राज्यों को पर्याप्त संख्या में टीके आवंटित किए गए हैं.

ये भी पढ़ें- Coronavirus के खिलाफ जंग में DRDO का बड़ा कदम, 500 बेड्स का अस्पताल हो रहा तैयार

LIVE TV

 





Source link

%d bloggers like this: