July 26, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Zee News ने जगाई देश की भावनाएं, 1 करोड़ दर्शकों ने देखा DNA का ये खास शो


नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के बीजापुर में 22 जवानों की शहादत के बाद नक्सलियों की ओर से कोबरा बटालियन के एक जवान को रस्सियों से बांधने और सैकड़ों लोगों के सामने अपमानित करने पर देशभर में गुस्सा बढ़ता जा रहा है. Zee News के एडिटर इन चीफ सुधीर चौधरी के देश के नंबर-1 प्राइम टाइम शो DNA के इस एपिसोड ने देश की भावनाओं को जगा दिया है. Zee News के इस वीडियो को अब तक 1 करोड़ से ज्यादा लोगों का साथ मिल चुका है और लोग नक्सलियों को कड़ा सबक सिखाने की मांग कर रहे हैं. 

देखें वीडियो- DNA: अपमान पर आंसू बहाएंगे या आक्रोश दिखाएंगे?

हालांकि इस तरह की तस्‍वीरों को देखकर आपका भी खून उबलने लगेगा. ये सही है कि CRPF के जवान राकेश्वर सिंह मन्हास को पांच दिन बाद नक्‍सलियों ने रिहा कर दिया लेकिन ये नक्सलवादी जिस तरह से उन्हें रस्सियों से बांध कर लेकर आए. उन्हें अपमानित किया गया और गांव में उनकी परेड कराई गई, उससे यही लगता है कि राकेश्वर सिंह मन्हास को भारत में नहीं बल्कि किसी दुश्मन देश में बंधक बनाया गया हो.

ये नक्सलवादी उन्हें रस्सी से बांध कर बीजापुर के आदिवासी इलाक़ों में लेकर आए, जो नक्सल प्रभावित इलाक़ा है हालांकि इससे पहले इन नक्सलवादियों ने ये जानकारी वहां के कुछ गांवों, आदिवासी नेताओं और मीडियाकर्मियों को दी. जब वहां भीड़ इकट्ठा हो गई तो ये हथियारबंद नक्सलवादी राकेश्वर सिंह मन्हास को वहां लेकर आए. मीडिया के सामने ही उनके हाथों में बांधी गई रस्सियां खोली गईं और फिर उन्हें रिहा किया गया

Zee News पहला ऐसा चैनल था, जिसने राकेश्वर सिंह को छुड़ाने के लिए मुहिम शुरू की और ये शुभ समाचार है कि राकेश्वर सिंह मन्हास पूरी तरह सुरक्षित हैं. हालांकि हमें लगता है कि नक्सलवादियों ने बंधक बनाए गए जवान के साथ ऐसा व्यवहार करके पूरे देश को चुनौती दी है और इसलिए हम इन तस्वीरों पर कड़ी निंदा की जगह कड़ी कार्रवाई की मांग करते हैं.

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: