July 25, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Patna: कोरोना ने बढ़ाई परिक्षार्थियों की मुश्किलें, पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय ने गेस्ट टीचर्स के लिए आवेदन की तिथि बढ़ाई


Patna: देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण सभी चीजें प्रभावित हो रहे हैं. यहां तक की परीक्षा या तो रद्द कर दी गई हैं या टाल दी गई हैं. अब इन वजहों से बहाली पर भी असर पड़ रहा है. वहीं, बिहार में पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय में भी बड़े स्तर पर गेस्ट टीचर्स की बहाली के लिए आवेदन मांगे गए थे. गेस्ट टीचर्स के लिए ऑनलाइन आवेदन की तारीख हार्डकॉपी भेजने के साथ 15 अप्रैल तक थी. लेकिन अब पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय ने समय बढ़ा दिया है. 

जानकारी के अनुसार, अब अभ्यर्थी गेस्ट टीचर्स के लिए 30 अप्रैल तक ऑनलाइन आवेदन भर सकते है. वहीं, आवेदन की हार्डकॉपी अब 13 मई 2021 तक तय की गई है. इधर, पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय में गेस्ट टीचर्स / पार्ट टाइम टीचर्स की भर्ती प्रक्रिया दोबारा शुरू की गई है. अभ्यर्थी पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय की वेबसाइट www.ppup.ac.in पर जाकर सारी जानकारी देख सकते हैं. 

वहीं, एक नजर उन विषयों पर जहां गेस्ट फेकेल्टी की भर्ती होनी है.

        विषय                                      खाली पद

  • बॉटिनी                                41 
  • केमेस्ट्री                                54 
  • इकोनॉमिक्स                          26 
  • हिन्दी                                 25 
  • हिस्ट्री                                 13 
  • मैथ                                  30
  • फिजिक्स                              48 
  • जूलॉजी                               38 
  • लॉ                                    9 
  • पॉलिटिकल साइंस              19 
  • म्यूजिक                             05 
  • साइकोलॉजी                        27 
  • सोशियोलॉजी                          8 

 

इधर, कुछ और दूसरे विषय भी हैं, यहां गेस्ट टीचर्स की बहाली की प्रक्रिया होनी है और इसके लिए भी ऑनलाइन आवेदन मांगे गए हैं.

 

कितनी है फीस: 

सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 1 हजार. वहीं, ओबीसी (OBC) और बीसी (BC) उम्मीदवारों के लिए 750 रूपए तय किए गए हैं, लेकिन एससी (SC) और एसटी (ST) उम्मीदवारों के लिए 50 रूपए फी रखी गई है. 

वहीं, विश्वविद्यालय की वेबसाइट के मुताबिक, ऐसे उम्मीदवार जिनके पास पीएचडी या एमफिल की डिग्री है, उन्हें इसका लाभ मिलेगा. हालांकि वैसे अभ्यर्थी जिनके पास पीएचडी या एमफिल की डिग्री है उन्हें दो में से किसी एक का ही लाभ मिलेगा.

क्या है न्यूनतम उम्र सीमा

अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम उम्र 23 साल रखा गया है. जबकि अधिकतम उम्र सीमा 55 साल रखा गया है. वहीं, विश्वविद्यालय ने साफ कहा है कि जो भी उम्मीदवार चुने जाएंगे उन्हें पेंशन, पीएफ, ग्रेचुएटी, मेडिकल ट्रीटमेंट या फिर प्रमोशन का लाभ नहीं मिलेगा.

गेस्ट टीचर्स के लिए शैक्षिणिक योग्यता 

अभ्यर्थी के पास मास्टर्स में 55 फीसदी मार्क्स होना चाहिए. साथ में उम्मीदवार के पास नेशनल इलिजिबिलिटी टेस्ट यानि नेट (NET) की डिग्री या फिर यूजीसी की तरफ से एसएलईटी /एसइटी होनी चाहिए. वहीं, लॉ कोर्स के लिए अलग से योग्यता तय की गई है.

बता दें कि पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय की स्थापना मार्च 2018 में की गई थी. इसके अंतर्गत पटना के साथ ही नालंदा के सरकारी और निजी कॉलेज इस यूनिवर्सिटी के तहत आते हैं. वहीं, शिक्षा विभाग ने तीन साल पहले तीन बड़ी यूनिवर्सिटी को पढ़ाई के लिहाज से बांटा था और इसी में मगध विश्वविद्यालय से कटकर पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी बनाया गया. इधर, कॉलेज ऑफ कॉमर्स, राजधानी स्थित अनुग्रह नारायण जैसे प्रतिष्ठित कॉलेज इसी पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी में आते हैं.





Source link

%d bloggers like this: