July 31, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Corona महामारी में फरिश्ते बने ASI अंबरीष त्यागी, अब तक 326 मरीजों की बचा चुके हैं जान


नई दिल्ली: कोरोना (Coronavirus) महामारी के इस दौर में जहां हर कोई खुद को असहाय महसूस कर रहा है. वहीं कई ऐसे फरिश्ते भी नजर आ रहे हैं, जो अपनी जान की परवाह किए बिना दूसरों की जान बचाने में जुटे हैं. 

महामारी में फरिश्ते बने अंबरीष त्यागी

दिल्ली पुलिस ( Delhi Police) के असिस्टेन्ट सब इंस्पेक्टर (ASI) अंबरीष त्यागी (Ambrish Tyagi) ऐसे ही एक फरिश्ते हैं. वे अब तक करीब 326 कोरोना मरीजों को अस्पतालों में भर्ती करवा चुके हैं. इनमें आम आदमी से लेकर पुलिस ऑफिसर तक शामिल हैं. कोरोना (Coronavirus) मरीजों को भर्ती करवाते हुए वे खुद भी संक्रमित हो हुए लेकिन उन्होंने अपना रास्ता नहीं बदला. अंबरीष त्यागी प्रसाद नगर थाने में तैनात हैं. इसी थाने के तहत कोविड अस्पताल बीएल कपूर (BL Kapoor Hospital) आता है, जिसके बीट इंचार्ज अम्बरीष त्यागी हैं.

पिछले साल जब से कोरोना महामारी शुरू हुई है, तब से अंबरीष त्यागी (Ambrish Tyagi) की भगीरथ दौड़ जारी है. जब दिल्ली में लॉकडाउन था, उस दौरान अंबरीष त्यागी गरीबों के मसीहा बने हुए थे. वे अपने स्तर पर उन्हें राशन से लेकर पका हुआ खाना तक बांट रहे थे. जरूरत मंद लोगों को मास्क, सेनिटाइजर और हाथ धोने के लिए साबुन भी मुहैया करवा रहे थे. अंबरीष त्यागी कहते हैं कि जान है तो जहान है.

अब तक 326 को भर्ती करवा चुके हैं

वे बताते हैं कि अब तक करीब 326 कोरोना (Coronavirus) मरीजों को बीएल कपूर अस्पताल में भर्ती करवा चुके हैं. इनमें दिल्ली पुलिस के स्टाफ, पुलिस अधिकारी, आम आदमी शामिल हैं. अब आलम ये है कि जब भी सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट के एरिया में किसी जरूरतमंद को बेड नहीं मिलता है तो सबकी जुबान पर मदद के लिए बस एक ही व्यक्ति का नाम आता है और वो है अंबरीष त्यागी का. आग्रह प्राप्त होते ही अंबरीष त्यागी (Ambrish Tyagi) अस्पतालों के सीनियर डॉक्टरों से गुजारिश कर बेड मुहैया करवाते हैं. 

ये सब करते हुए ASI अंबरीष त्यागी (Ambrish Tyagi) खुद भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. इस बीमारी से ठीक होने के बाद वे फिर से लोगों की मदद करने में जुट गए. अंबरीष त्यागी कहते हैं कि पिछले साल उन्होंने करीब 225 मरीजों को भर्ती करवाया था. वहीं इस साल अब तक करीब 101 मरीजों को एडमिट करवा चुके हैं. वे लोगों का कोरोना टेस्ट करवाने के साथ ही जरूरतमंद लोगों को प्लाज्मा दिलवाने में भी जुटे हैं. 

ये भी देखें-

ये भी पढ़ें- Online Fraud के बाद भी मिनटों में वापस मिल जाएगी रकम, बस इस Helpline नंबर पर करना होगा कॉल

घर भी नहीं जा रहे हैं अंबरीष त्यागी

इस साल अप्रैल में जब से कोरोना (Coronavirus) ने स्पीड पकड़ी है, तब से अंबरीष त्यागी अपने घर भी नहीं जा रहे हैं. उन्हें डर है कि कहीं उनकी सेवा की वजह से परिवार के लोग किसी मुसीबत में न पड़ जाएं. SHO राम नारायण कहते हैं कि अंबरीष त्यागी बहुत अच्छा काम कर रहे हैं. पूरा पुलिस परिवार उनके काम की सराहना करता है. 

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: