July 25, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Corona से लड़ने के लिए 40 बेस्ट डॉक्टर्स के नंबर जारी, समस्या होने पर यहां करें संपर्क


Patna: कोरोना की दूसरी लहर का असर राज्य में देखने को मिलने लगा है. जिसके बाद से राज्य सरकार ने कोरोना रोकथाम के लिए कई कड़े कदम उठाये हैं. इसी बीच बिहार IMA ने बेहद सराहनीय कदम उठाया है. बिहार IMA ने कोरोना पीड़ित मरीजों की मदद के लिए अपने 40 बेस्ट डॉक्टरों का मोबाइल नंबर जारी कर दिए हैं. कोरोना पीड़ित मरीज इन नंबरों पर सम्पर्क कर मुफ्त परामर्श ले सकते हैं. 

 IMA के एक्टिंग प्रेजिडेंट डॉ अजय कुमार और सेक्रेटरी डॉ सुनील कुमार ने नंबर जारी किये है. इसके अलावा IMA ने सरकार द्वारा लागू की गई कोविड गाइडलाइन का भी स्वागत किया है. IMA ने लोगों को घर में ही रहने की सलाह दी है. इसके अलावा हलके लक्षण वाले मरीज अपने पास के डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं.

IMA ने दौरान कहा कि कोई भी सुबह 10 से 12  बजे तक या शाम 4 से 6 बजे के बीच परामर्श ले सकता है. वहीं उन्होंने सरकार को सलाह देते हुए कहा है कि सरकार अगर चाहे तो रिटायर डॉक्टरों को मानदेय पर टेलीमेडिसिन के माध्यम से कोविड या अन्य उपचार के लिए रख सकती है. 

वहीं IMA ने सरकार के उस फैसले का स्वागत किया है, जिसमे सरकार ने सरकारी चिकित्सक और चिकित्सा कर्मियों को एक महीने का आतिरिक्त वेतन  प्रोत्साहन राशि के रूप में देने का फैसला लिया है. 

ये भी पढ़ें: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच Tejashwi Yadav ने केंद्र पर साधा निशाना, पूछा- एक साल में क्या काम किया

IMA ने सरकार के उस फैसले का स्वागत किया है, जिसमे सरकारी चिकित्सको और चिकित्साकर्मियों को एक महीने का अतिरिक्त वेतन प्रोत्साहन राशि के रूप में देने का फैसला लिया है. उन्होंने  सरकार से ये भी अपील की है कि ये राशि IGIMS  और AIIMS Patna के भी चिकित्सको और चिकित्साकर्मियों को दी जाए ताकि उनका भी मनोबल बढ़ा रहा सके. इसके अलावा उन्होंने जान गंवा चुके डॉक्टर्स के परिवार वालों को अनुग्रह राशी के साथ-साथ सरकारी नौकरी भी देने की मांग की है. 

IMA ने जारी अपने पत्र में लिखा है कि सरकार की ओर से आश्वासन के बावजूद अनिबंधित लेकिन, सक्षम 50 बेड के हॉस्पिटल को कोविड मरीजो के इलाज को मंजूरी नहीं दी गई है. सरकार को इस पर तुरंत फैसला लेना चाहिये. वहीं IMA ने कहा है कि सरकार को एक पोर्टल पर दवा, बेड और ऑक्सीजन बेड की जानकारी भी उपलब्ध करानी चाहिए. जिससे लोग जरूरत पड़ने पर इस जानकारी को हासिल कर सके.





Source link

%d bloggers like this: