June 20, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

103 वर्षीय स्वतंत्रता सेनानी बिरदीचंद गोठी ने दी Corona को मात, बताया कैसे जीती ये जंग


बैतूल: देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ने वाले 103 वर्षीय स्वतंत्रता संग्राम सेनानी बिरदीचंद गोठी (Biradi Chand Gothi) ने कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) को मात दी है. वे मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बैतूल के निवासी हैं और आधार कार्ड के अनुसार बिरदीचंद गोठी की डेट ऑफ बर्थ दो नवंबर 1917 है. 

क्या कहना है गोठी का
पांच अप्रैल को बिरदीचंद गोठी (Biradi Chand Gothi) की कोरोना रिपोर्ट (Corona Report) पॉजिटिव आई थी और शुक्रवार को उनकी रिपोर्ट निगेटिव आ गई है. गोठी ने कहा, ‘कोरोना वायरस संक्रमित होने के बाद डॉक्टरों ने मेरा इलाज किया. साथ ही घर पर काम करने वाले लोगों ने सहयोग किया. मैं खुश रहा और सादा खाना खाया. इसलिए मैं कोरोना को मात दे सका.’ 

जल्द स्वस्थ होने के बताए ये कारण
उन्होंने कहा, ‘ईश्वर की कृपा से मैं ठीक हूं. इलाज के दौरान सबका सहयोग मिला. मैं मानसिक रूप से ठीक रहा और खुश रहा. खान-पान ठीक रखा. इसलिए जल्द स्वस्थ हो गया.’ गोठी ने बताया,‘मेरी बचपन से दिनचर्या ठीक रही है. सुबह जल्दी उठना, संतुलित एवं सादा आहार, नियमित व्यायाम एवं पठन-पाठन और प्रसन्नचित्त मन से अपने हर काम को करता हूं. लेकिन वर्तमान में लोग बदलते दौर में खुद को बदल रहे हैं.’ 

खानपान का जरूर रखें ध्यान
बिरदीचंद गोठी ने कहा, ‘आजकल का खानपान एवं रहन-सहन लोगों को शारीरिक रूप से कमजोर कर रहा है. इसलिए सभी को सादा जीवन और सादा एवं संतुलित आहार लेने की जरूरत है. दिनचर्या को बेहतर कर शारीरिक परिश्रम करें और प्रसन्न रहें. इससे हम कोरोना को हरा सकते हैं.’ गोठी ने बताया कि छिंदवाड़ा के डॉक्टर प्रवीण नाहर की देखरेख में बैतूल में घर पर ही उनका इलाज हुआ. डॉ. नाहर ने बताया, ‘गोठी पांच अप्रैल को कोरोना संक्रमित पाये गये थे और 23 अप्रैल को उनकी रिपोर्ट निगेटिव आ गई है.’

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: