गाजियाबाद में ऑक्सीजन की कालाबाजारी करते दो लोग गिरफ्तार, बरामद हुए 101 सिलेंडर


गाजियाबाद: पूरे देश में कोरोना वायरस ने कोहराम मचा के रखा है. लोग अस्पतालों में बेड्स, ऑक्सीजन जैसी जरूरी चीजों की भारी किल्लत के बीच से गुजर रहे हैं. कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच मेडिकल आक्सीजन की भी बड़ी किल्लत हो गई है. ऐसे में ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने वाले भी सक्रिय हो गए हैं. ऐसे ही कालाबाजारी करने वाले दो लोग गाजियाबाद पुलिस के हत्थे चढ़े हैं.

अब नहीं होगी सांस लेने में दिक्कत! योगी सरकार खरीद रही है 5 हजार जम्बो ऑक्सीजन सिलेंडर

दो लोग गिरफ्तार, 101 ऑक्सीजन गैस के सिलेंडर बरामद
गाजियाबाद के थाना कोतवाली/नंदग्राम व स्वाट टीम की संयुक्त कार्रवाई करते हुए ऑक्सीजन गैस की कालेबाजारी करने वाले दो अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों के कब्जे से छोटे और बड़े कुल 101 ऑक्सीजन गैस के सिलेंडर बरामद भी किए गए हैं. इसमें 30 सिलेंडर भरे हुए हैं, वहीं बाकी खाली हैं. महामारी अधिनियम के तहत इन पर मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है.

महामारी अधिनियम के तहत इन पर मुकदमा दर्ज
आरोपियों की पहचान कैला भट्ठा के रहने वाले आकिल सैफी पुत्र असरफ और न्यू प्रेम नगर जस्सीपुरा के रहने वाले जावेद मलिक के रूप में हुई है. ये दोनों गाजियाबाद के ही रहने वाले बताए जा रहे हैं. अभियुक्तों की गिरफ्तारी और बरामदगी के आधार पर थाना कोतवाली पर अभियोग पंजीकृत कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है. दोनों के खिलाफ धारा 188/269/270/420 भादवि व 3 महामारी अधि0 व 52/53 आपदा अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है. 

पुलिस ने बताया कि ये लोग लोगों की मजबूरी का लाभ उठाकर उनकी सांस का सौदा करते थे. जैसे ही उन्हें लगता था कि ग्राहक मजबूर है तो एक सिलेंडर का किराया 24 घंटे के लिए एक से पांच हजार रुपये तक मांगते थे. वहीं 40 से पचास हजार में बेचने का सौदा करते थे.

स्वास्थ्य विभाग ने जारी की 16 नए कोविड अस्पतालों की लिस्ट, बढ़ाई गई वेंटिलेटर, ICU बेड की संख्या

कोरोना महामारी के संक्रमण के दौरान राज्य सरकार द्वारा आवश्यक वस्तुओं व विशेषत: ऑक्सीजन गैस के सिलेंडर, रेमडेसिविर इंजेक्शन आदि की कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध ठेस कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया गया है. 

वहीं यूपी की राजधानी लखनऊ समेत कई जिलों से लगातार आ रही ऑक्सीजन की कमी के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा फैसला लिया है. अब निजी हॉस्पिटल में ऑक्सीजन ऑडिट कराया जाएगा. इसके लिए आईआईटी कानपुर, आईआईएम लखनऊ, आईआईटी बीएचयू को ऑडिट /मॉनीटरिंग की जिम्मेदारी सौंपी गई है. इसकी कमान अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी को सौंपी गई है.

सावधान: सोशल मीडिया पर कोरोना को लेकर फैलाई अफवाह तो नहीं बचेंगे आप, जारी हुए दिशा निर्देश

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.