June 18, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

China की कुटिल चाल फिर उजागर, India को मेडिकल सप्लाई कर रहे कार्गो विमानों का परिचालन रोका


बीजिंग: भारत के वैश्विक उभार को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे चीन (China) की कुटिल मंशा एक बार फिर उजागर हो गई है. भारत (India) में कोरोना महामारी का प्रकोप बढ़ जाने पर चीन ने कई दिनों बाद लोक दिखावे के लिए मदद देने का ऑफर तो दिया. लेकिन जब वास्तविक मदद की बारी आई तो तकनीकी कारण बताकर भारत को होने वाली मेडिकल सप्लाई में रुकावट डाल दी है. 

भारत जाने वाले कार्गो प्लेन 15 दिनों के लिए रोके गए

जानकारी के मुताबिक चीन (China) की सरकारी सिचुआन एयरलाइंस (Sichuan Airlines) ने भारत (India) के लिए अपनी सभी कार्गों (मालवाहक) उड़ानों को अगले 15 दिनों तक स्थगित कर दिया है. एयरलाइन ने कहा कि उसकी विमानन कंपनी शियान-दिल्ली समेत छह मार्गों पर अपनी कार्गो सेवा स्थगित कर रही है. 

कंपनी ने कहा,‘भारत में महामारी की स्थिति में अचानक हुए बदलाव की वजह से आयात की संख्या में कमी आई है. इसलिए अगले 15 दिनों के लिए उड़ानों को स्थगित करने का फैसला किया गया है.’ एयरलाइन ने कहा, ‘भारतीय मार्ग हमेशा से ही सिचुआन एयरलाइंस का मुख्य रणनीतिक मार्ग रहा है. इस स्थगन से हमारी कंपनी को भारी नुकसान होगा. हम इस बिन बदली हुई परिस्थिति के लिए माफी मांगते हैं.’ कंपनी ने कहा कि 15 दिन बाद वह अपने इस फैसले की समीक्षा करेगी. 

एयरलाइन के फैसले से भारतीय कंपनियां हैरान

कार्गो उड़ानों के स्थगन से एजेंट और चीन (China) से जीवन रक्षक उपकरण और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीदने की कोशिश कर रही कंपनियां हैरान हैं. यह घोषणा तब सामने आई है, जब हाल ही में चीन की सरकार ने कोरोना महामारी (Corona Epidemic) से निपटने के लिए भारत (India) को पूरी सहायता की पेशकश की थी. यह शिकायत भी सामने आ रही है कि चीनी कंपनियों ने मौके का फायदा उठाते हुए ऑक्सीजन संबधी उपकरणों की कीमत में 35 से 40 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दी है. वहीं माल ढुलाई के शुल्क में भी करीब 20 प्रतिशत तक की वृद्धि की गई है.

भारत को दूसरे रास्तों से मंगाना होगा माल

शंघाई में माल ढ़ुलाई से जुड़ी भारतीय कंपनी साइनो ग्लोबल लॉजिस्टिक के सिद्धार्थ सिन्हा ने सिचुआन एयरलाइंस के फैसले पर हैरानी जताई है. उन्होंने कहा कि इस फैसले से तेजी से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीदने और उन्हें भारत (India) भेजने के काम में रुकावट पैदा हो जाएगी. उन्होंने कहा कि अब इन सामानों को सिंगापुर और दूसरे देशों के रास्ते भारत भेजना होगा. जिससे समय के साथ-साथ लागत भी बढ़ जाएगी. 

ये भी पढ़ें- Corona के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए China देगा India का साथ, Dragon ने कहा, ‘हम हर संभव मदद को तैयार’

सिन्हा ने कहा कि भारत में कोरोना (Corona Epidemic) की मौजूदा स्थिति का हवाला देकर उड़ानों का स्थगित करना हैरान कर देने वाला है. असल में भारत जाने वाले चालक दल के किसी भी सदस्य को बदला नहीं जाता और वही लोग विमान को वापस लाते हैं. ऐसे में एयरलाइन का यह फैसला कुछ और ही इशारा कर रहा है.

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: