कोरोना संकट को देखते हुए युवक ने बाइक को ही बना लिया एम्बुलेंस, लोगों को फ्री में दे रहा सेवा


धार: कोरोना काल में धार के एक युवा इंजीनियर ने कमाल कर दिया है. इंजीनियर अजीज खान ने एक ऐसी बाइक एंबुलेंस तैयार की है, जो महामारी के इस दौर में लोगों के लिए मददगार साबित होगी. अब वह जल्द ही जिला अस्पताल को यह बाइक एंबुलेंस फ्री में भेंट करेंगे, ताकि जरूरतमंदों को समय पर इलाज मिल सके और उनकी जान बच सके.
इस एंबुलेंस को बनाने में महज 25 से 40 हजार रुपए का खर्च आया है. हम आपको अजीज खान द्वारा तैयार की गई बाइक एंबुलेंस के बारे में बताते हैं कि आखिर क्यों वह खास है…
2 दिन में तैयार की 
अजीज ने महज दो दिनों में इस बाइक एंबुलेंस को तैयार किया है. इसकी खास बात ये है कि किसी भी मरीज को ऑक्सीजन लगाकर इसे एक जगह से दूसरी जगल ले जाया जा सकता है. मरीज के साथ एक दूसरे शख्स को भी बाइक एंबुलेंस में आसानी से बिठाया जा सकता है, जो मरीज की देखभाल कर सके.
बाइक एंबुलेंस की खासियत
आमतौर पर इस तरह के वाहन का उपयोग आदिवासी अंचल के मंजरे टोले में किया जा सकता है. मतलब उन जंगली इलाकों में जहां शासकीय एंबुलेंस को पहुंचने में कठिनाई आती है. ऐसे में यह बाइक एंबुलेंस आसानी से सकरे रास्ते से भी मौके तक पहुंच सकती है और मरीज को प्राथमिक इलाज देने के साथ ही उसकी जिंदगी बचाई जा सकती है. 
कैसे बनाई बाइक एंबुलेंस
इस बाइक एंबुलेंस को बनाने में अजीज ने पुराने कल पुर्जों का इस्तेमाल किया है. बाइक के दो टायर इकट्ठा किए. फिर लोहे की एक फेम बनाई. जिस पर एक सीट लगाई गई है.. ताकि मरीज आराम से लेट सके. इसके साथ ही एक सिलेंडर लगाया गया, जिससे मरीज को ऑक्सीजन मिल सके. फिर इसे बाइक के साथ अटैच करने के लिए एक एंगल का उपयोग किया गया है. जिसे जोड़कर आसानी से एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जा सके.
इंजीनियर अजीज खान का मानना है कि यदि जल्द इसको बनाने का सामान मिल जाए तो इसे हम 10 से 15 हजार की लागत से भी बना सकते हैं. 
ये भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में बढ़ा लॉकडाउन का समय, सिर्फ इन जिलों को मिल सकती है छूट
WATCH LIVE TV

बाइक को बना लिया एंबुलेंस



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.