June 19, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Corona से लड़ने के लिए Military को मैदान में उतारने की तैयारी, पीएम ने आर्मी चीफ के साथ की मीटिंग


नई दिल्ली: देश में कोरोना महामारी (Corona Epidemic) से निपटने के लिए सरकार अब आर्मी को मैदान में उतारने जा रही है. सरकार की नई रणनीति के अनुसार सेना के संसाधनों और मैनपावर को साथ लेकर कोरोना वायरस के खिलाफ जंग छेड़ी जाएगी. 

पीएम मोदी ने आर्मी चीफ के साथ की बैठक

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने गुरुवार को सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (Manoj Mukund Naravane) को अपने आवास पर बुलाया और कोविड (Corona Epidemic) से निपटने के लिए सेना की तैयारियों के बारे में जानकारी ली. जनरल ने उन्हें देशभर में उपलब्ध सेना के संसाधनों और मैनपावर के बारे में ब्रीफिंग दी. साथ ही कहा कि सेना इस महामारी के खिलाफ जंग में पूरी तरह सरकार के साथ है. 

जनरल नरवणे ने पीएम (Narendra Modi) को बताया कि सेना ने अपनी मेडिकल कोर के स्टाफ को राज्यों के साथ सहयोग के काम में लगा दिया है. उन्होंने यह भी बताया कि सिविल प्रशासन की मदद के लिए सेना देशभर में टेंपरेरी अस्पतालों का निर्माण करने जा रही है. 

नागरिकों के लिए खुलेंगे मिलिट्री अस्पताल

जनरल नरवणे (Manoj Mukund Naravane) ने पीएम (Narendra Modi) को बताया कि सेना अपने कई मिलिट्री अस्पतालों को आम नागरिकों के लिए भी खोल रही है. संकट की स्थिति में आम लोग अपने नजदीकी मिलिट्री अस्पतालों में अप्रोच कर सकते हैं. आर्मी चीफ ने यह भी बताया कि सेना अपनी मैनपावर का इस्तेमाल विदेशों से आने वाले ऑक्सीजन कंसेंट्रेटरों को उतारने और उन्हें उचित तरीके से रवाना करने में भी कर रही है. 

ये भी पढ़ें- QUAD के बाद India अब Russia से भी करेगा 2+2 Dialogue, चीन की बढ़ेगी टेंशन

सीडीएस भी पीएम को कर चुके हैं ब्रीफ

बताते चलें कि इससे पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने पीएम मोदी से मिलकर उन्हें कोरोना (Corona Epidemic) से जंग के लिए तीनों सेनाओं की ओर से की जा रही तैयारियों से अवगत कराया था. सीडीएस ने पीएम को बताया कि 2 साल पहले रिटायर हो चुके तीनों सेनाओं के मेडिकल कर्मियों को दोबारा से सेवा में वापस बुलाया जा रहा है. साथ ही देश में इलाज के इंतजाम मजबूत करने के लिए तीनों सेनाओं के संसाधनों को इकट्ठा किया जा रहा है. 

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: