June 19, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

कोरोना काल मे बढ़ रही हैं Oxygen की मांग, पूरी नहीं करने पर प्लांट के मालिक को जान से मारने की धमकी


Gaya: बढ़ते कोरोना संक्रमण के प्रभाव के चलते देश के कई राज्यों में ऑक्सीजन को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामान करना पड़ा रहा है. वहीं, बात अगर बिहार के गया कि करें तो जिले में भी कोरोना संक्रमण में प्रतिदिन एक नया रिकॉर्ड बन रहा है और हजारों की संख्या में लोग शहर से लेकर गांव तक इस संक्रमण का शिकार हो रहे हैं.

वहीं, जिले में बढ़ते संक्रमण को लेकर मेडिकल ऑक्सीजन गैस की भी डिमांड बढ़ गई है. लोगों को अपने परिजनों के लिए ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है. ऐसी स्थिति में गया शहर के चंदौती थाना क्षेत्र के गया पटना मुख्य मार्ग पर कंडी नवादा स्थित कैपिटल ऑक्सीजन कंपनी में दिन रात दर्जनों की संख्या में कर्मी लगे हुए हैं और ऑक्सीजन की सप्लाई कर रहे हैं. ताकि हर इंसान के जीवन को बचाया जा सके. लेकिन बिगड़ते हालात और ऑक्सीजन की खपत अधिक होने के कारण आपूर्ति में समस्या आ रही हैं.

ये भी पढ़ें- कोरोना की जंग में हारा STF जवान, दोस्त की सेवा करने के दौरान खुद हुए थे Positive

इसको लेकर कैपिटल ऑक्सीजन कंपनी के मालिक मो. नैयर को आए दिन ऑक्सीजन नही देने पर लगातार फोन पर धमकी दी जा रही हैं कि ‘अगर मेरा परिवार नहीं बचा तो तुम भी जिंदा नही रहोगे’. ऐसे दिन भर में सैकड़ों कॉल आते हैं.

वहीं, कंपनी के मालिक ने बंद कैमरे पर बताया कि ‘कुछ दिन पूर्व ऑक्सीजन को लेकर भाकपा माओवादी के द्वारा भी कॉल किया गया था और ऑक्सीजन की मांग की गई थी. जिसके बाद दो दर्जन ऑक्सीजन सिलेंडर को मुहैया कराया गया था. लेकिन जिस तरह से कोरोना के संक्रमण में बढ़ोतरी हो रही है और जितनी ऑक्सीजन की मांग बढ़ रही हैं उसको पूरा नहीं कर सकते हैं. क्योंकि हमारे प्लांट की क्षमता 900 ऑक्सीजन सिलेंडर की हैं जिसमे 600 से 700 की संख्या में ऑक्सीजन सिलेंडर की खपत अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल में है और कुछ निजी अस्पताल में भी दिया जा रहा है. जहां कोविड के मरीजों का ईलाज किया जा रहा है. 

ये भी पढ़ें- ऑक्सीजन की आपूर्ति को लेकर Patna HC गंभीर, पूछा- कैसे करेंगे इतनी मात्रा की पूर्ति

उन्होंने आगे बताया कि ‘कई नेता, ऑफिसर, अधिकारी सहित अन्य लोगों की भी डिमांड आती है जिसको पूरा नहीं किया जा सकता है. इसे लेकर मेरी जान पर भी खतरा मंडरा रहा है. इसलिए हमने अपनी सुरक्षा और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए जिलाप्रशासन से गुहार लगाई है कि इस विकट परिस्थितियों में हमे सुरक्षा व्यवस्था प्रदान की जाए ताकि हम अपने कार्य को सही और ईमानदारी से पूरा कर सके.’

(इनपुट- जय प्रकाश कुमार)





Source link

%d bloggers like this: