June 18, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

बंगाल में हिंसा: गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट, नड्डा का दो दिवसीय दौरा तय; BJP करेगी प्रदर्शन


कोलकाता: पश्चिम बंगाल में विधान सभा चुनाव (West Bengal Election) के नतीजे आने के एक दिन बाद सोमवार को व्यापक पैमाने पर हिंसा देखने को मिली जिसमें कथित तौर पर झड़प और दुकानों को लूटे जाने के दौरान कई बीजेपी (BJP) कार्यकर्ताओं की मौत हो गई तो कई घायल हो गए. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार से विपक्षी कार्यकर्ताओं पर हमले की घटना में तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है. इसके साथ ही राज्य का सियासी तापमान भी बढ़ने के संकेत हैं. मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष राज्य के दौर पर पहुंच रहे हैं. बीजेपी हिंसा के विरोध में राज्य भर में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करेगी.

बीजेपी ने किया 6 कार्यकर्ताओं की मौत का दावा

भाजपा ने एक पार्टी कार्यालय में कथित आगजनी का वीडियो शेयर किया है जिसमें बांस की बल्लियां और छत जलती हुई नजर आ रही है और परेशान लोगों को चिल्लाते हुए भागते देखा जा सकता है. सोशल मीडिया पर मृत व्यक्तियों की तस्वीरें और एक दुकान से कपड़े लूट कर भागते लोगों की फुटेज वायरल हो रही है. हालांकि इस वीडियो की प्रमाणिकता की स्वतंत्र तौर पर पुष्टि नहीं की जा सकती. बीजेपा का दावा है कि उसके कम से कम छह कार्यकर्ता और समर्थक हमलों में मारे गए हैं जिनमें एक महिला भी शामिल है. बीजेपी इसका आरोप तृणमूल कांग्रेस (TMC) पर लगा रही है.

राज्यपाल ने तलब किए DGP, ACS होम

बीजेपी ने एक और वीडियो शेयर किया है जिसमें नंदीग्राम में पार्टी दफ्तर में हुई तोड़फोड़ को दिखाया गया है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) इस सीट पर BJP के सुवेंदु अधिकारी से चुनाव हार गई हैं. राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने प्रदेश के गृह सचिव, पुलिस महानिदेशक (DGP) और कोलकाता के पुलिस आयुक्त को तलब कर उन्हें शांति बहाल करने के निर्देश दिये हैं. उन्होंने तृणमूल कांग्रेस की सत्ता में वापसी के एक दिन बाद हुई इन घटनाओं के बाद की स्थिति पर अफसरों से चर्चा की.

गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट

धनखड़ ने गृह सचिव एके द्विवेदी से मुलाकात के बाद ट्वीट किया, ‘राज्य में चुनाव के बाद हिंसा की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर मैंने एसीएस गृह को तलब किया था और उन्हें चुनाव बाद हुई राज्य में हुई हिंसा व तोड़फोड़ तथा उठाए गए कदमों पर रिपोर्ट देने को कहा गया है.’ एक प्रवक्ता ने कहा, ‘गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से राज्य में विपक्षी राजनीतिक कार्यकर्ताओं की निशाना बनाकर की जा रही हिंसा पर एक रिपोर्ट मांगी है.’ 

जेपी नड्डा का दो दिवसीय दौरा

भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं के खिलाफ हो रही हिंसा तृणमूल कांग्रेस ‘प्रायोजित’ है. विजयवर्गीय ने बताया कि भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा कार्यकर्ताओं के मनोबल को बढ़ाने और उनके साथ एकजुटता का भाव दर्शाने के लिए मंगलवार को बंगाल का दो दिवसीय दौरा करेंगे. उन्होंने बताया कि तृणमूल कांग्रेस की ओर से भाजपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ ‘प्रायोजित’ हिंसा का जवाब देने के लिए भाजपा सड़कों पर उतरेगी. कैलाश विजयवर्गीय का आरोप है कि चुनाव के बाद हिंसा की घटनाओं में राज्य में चार भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई जबकि 4000 घरों पर हमले हुए हैं.

यह भी पढ़ें: चुनावी नतीजों के बाद राज्‍य सभा में बदलने जा रहा ‘गणित’, BJP को नफा या नुकसान?

भाजपा कार्यकर्ताओं से मिलेंगे नड्डा

भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की जीत के साथ ही उसके संरक्षण में ‘गुंडों द्वारा हिंसा का तांडव और खून से जीत का जश्न’ मनाना शुरू हो गया है. उन्होंने कहा, ‘हैरानी की बात यह है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मूकदर्शक बनकर इन हिंसक घटनाओं की गवाह बन रही हैं लेकिन उन्होंने न तो इसकी निंदा की है, न प्रशासन को उन्होंने कोई दिशा-निर्देश दिए हैं. बलूनी ने कहा, वस्तुस्थिति का जायजा लेने नड्डा मंगलवार से दो दिवसीय दौरे पर बंगाल में रहेंगे जहां वह हिंसा से प्रभावित भाजपा कार्यकर्ताओं एवं उनके परिजनों से मुलाकात करेंगे और प्रजातांत्रिक तरीके से हिंसा का विरोध करेंगे. 

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: