महिला प्रत्याशी ने प्रधानी का चुनाव जीता लेकिन एक दिन पहले ही हार गई जिंदगी की जंग


लखनऊ: उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के नतीजे (Uttar Pradesh Panchayat Election Result) आ गए हैं. उन्नाव (Unnao) जिले की हसनगंज तहसील के भोगला गांव में विजयी महिला प्रत्याशी की जीत का प्रमाण पत्र लेने से पहले ही मौत हो गई. ग्राम प्रधान प्रत्याशी का मतगणना से एक दिन पहले ही शनिवार को बीमारी से निधन हो गया. रविवार को वोटों की गिनती हुई तो उनके नाम से डाले गए वोट सबसे ज्यादा निकले. उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी को 48 वोटों से हराया.

बीमारी से हुई मौत
भोगला गांव से प्रधान पद की प्रत्याशी रही शिवकली की शनिवार को बीमारी से मौत हो गई थी. रविवार को मतगणना के दौरान मृतका शिवकली को 500 वोट मिले. निकटतम प्रतिद्वंदी पिंकी को 452 वोट हासिल हुए. इस तरह शिवकली ने पिंकी को 48 वोटों से हरा दिया लेकिन वे जीत का प्रमाणपत्र लेने से पहले ही दुनिया छोड़ गईं.

अब क्या होगा?
सहायक निर्वाचन अधिकारी (पंचायत/निकाय) डॉ. संजय द्विवेदी ने बताया कि यह सीट अब रिक्त हो जाएगी. राज्य निर्वाचन आयोग को रिपोर्ट भेजी जाएगी. अगले निर्देश पर उपचुनाव कराया जाएगा. उपचुनाव के नतीजों के अधार पर गांव का प्रधान चुना जाएगा.

यह भी पढ़ें: कोरोना: हल्‍के लक्षणों में न कराएं CT Scan, कैंसर का बढ़ सकता है खतरा

3.19 लाख उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित 
बता दें, उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव में कुल 3.19 लाख उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए हैं. एसईसी ने कहा, ‘पंचायत चुनावों में 3,19,317 उम्मीदवार निर्विरोध चुने गए हैं. इसमें जिला पंचायत के सात सदस्य, पंचायत के 2,005 सदस्य और 3.17 लाख से अधिक सदस्य हैं, जो इस पंचायत चुनाव में निर्विरोध चुने गए हैं. कुल 178 उम्मीदवार ग्राम पंचायतों के प्रधान पद के लिए भी निर्विरोध चुने गए थे. उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनावों की मतगणना रविवार सुबह शुरू हुई.

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.