June 23, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Adar Poonawalla ब्रिटेन में करेंगे 2457 करोड़ का निवेश, वैक्सीन के लिए पहले चरण का ट्रायल भी शुरू


लंदन: सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) अपने वैक्सीन कारोबार का विस्तार करने के लिए ब्रिटेन में 24 करोड़ पाउंड यानी करीब 2457 करोड़ रुपये का निवेश करेगा. SII ब्रिटेन में एक नया सेल्स ऑफिस खोलेगा, जिससे बड़ी संख्या में ब्रिटेन में रोजगार के अवसर पैदा होंगे. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक अरब पाउंड की भारत-ब्रिटेन ट्रेड प्रमोशन पार्टनरशिप के तहत यह घोषणा की, जिससे ब्रिटेन में करीब 6,500 नई नौकरियां तैयार होंगी.

ब्रिटेन में पहले चरण का ट्रायल शुरू

पुणे स्थित वैक्सीन विनिर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SI) के साथ ही लगभग 20 भारतीय कंपनियों ने ब्रिटेन में स्वास्थ्य सेवा, बायोटेक और सॉफ्टवेयर जैसे क्षेत्रों में महत्वपूर्ण निवेश करने की घोषणा की है. यह भी पता चला है कि भारत के सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्सीन के लिए ब्रिटेन में पहले चरण का परीक्षण भी शुरू कर दिया है. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कार्यालय ने सोमवार को एसआईआई की योजनाओं के बारे में कहा, ‘सेल्स ऑफिस से एक अरब अमेरिकी डॉलर से अधिक का नया व्यापार तैयार होने की उम्मीद है, जिसमें से 20 करोड़ पाउंड ब्रिटेन में निवेश किए जाएंगे.’ 

ग्लोबल जीन कॉर्प भी करेगी इनवेस्ट

बयान में कहा गया, ‘सीरम (SII) का निवेश क्लिकनिकल ट्रायल, रिसर्च और डेवलपमेंट व वैक्सीन के प्रोडक्शन के लिए होगा. इससे ब्रिटेन और दुनिया को कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) और अन्य घातक बीमारियों को हराने में मदद मिलेगी. सीरम ने पहले ही ब्रिटेन में कोरोना वायरस की वैक्सीन का परीक्षण शुरू कर दिया है.’ स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में एक अन्य भारतीय कंपनी ग्लोबल जीन कॉर्प द्वारा अगले पांच वर्षों के दौरान 5.9 करोड़ पाउंड का इनवेस्ट किया जाएगा.

भारत में टीके की उपलब्धता पर पूनावाला

मंगलवार को लंदन में मौजूद सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के CEO अदार पूनावाला (Adar Poonawallaa) ने कहा कि कि रातों-रात टीके का प्रोडक्शन नहीं बढ़ाया जा सकता है. टीके का प्रोडक्शन एक खास प्रक्रिया होती है, जिसमें समय लगता है. पूनावाला ने यह भी कहा कि भारत की आबादी बहुत बड़ी है और सभी 18+ वालों के लिये पर्याप्त खुराक का उत्पादन करना कोई आसान काम नहीं है.

यह भी पढ़ें: बंगाल हिंसा को लेकर ममता बनर्जी ने बुलाई आपात बैठक, CS-DGP सहित आला अधिकारी तलब

भारत सरकार कर चुकी है एडवांस पेमेंट

पूनावाला ने यह भी कहा कि हमें भारत सरकार से अगले कुछ महीनों में 11 करोड़ खुराक के लिये 100 प्रतिशत भुगतान यानी 1,725.5 करोड़ रुपये पहले ही मिल चुके हैं.’ उन्होंने कहा कि इसके अलावा अगले कुछ महीनों में 11 करोड़ खुराक राज्यों एवं निजी अस्पतालों के लिये आपूर्ति की जाएगी. पूनावाला ने कहा, ‘…हम इस बात को समझते हैं कि हर कोई जल्दी से जल्दी टीके की उपलब्धता चाहता है. हमारा प्रयास भी यही है और हम इसे हासिल करने के लिये हर संभव कोशिश कर रहे हैं. हम और कठिन मेहनत करेंगे और भारत के Covid-19 महामारी के खिलाफ अभियान को और मजबूत बनाएंगे.’ यह जवाब स्वास्थ्य मंत्रालय के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन आरोपों को खारिज किया गया कि मंत्रालय ने एसआईआई को कोविशील्ड टीके के लिए नये ऑर्डर नहीं दिए हैं.

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: