June 18, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Corona: ऑक्सीजन सिलेंडर के नाम पर Fire Extinguisher बेचने का खेल, दिल्ली पुलिस कर रही है भंडाफोड़


नई दिल्ली: कोरोना (Coronavirus) की दूसरी लहर के बीच दवाओं और ऑक्सीजन से जुड़े उपकरणों की भारी मांग बढ़ी तो कालाबाजारी करने वालों की चांदी कटने लगी है. हालांकि दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ऐसे लोगों के खिलाफ लगातार कार्रवाई करके सख्त संदेश दे रही है. 

चौंकाने वाली बात है कि दिल्ली में सांसों के संकट का सामना कर रहे मरीजों के परिवार वालों को ऑक्सीजन सिलिंडर के नाम पर आग बुझाने में काम आने वाले फायर सिलेंडर बेचने का भी खेल चल रहा है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) अब तक 537 फायर सिलेंडर बरामद कर चुकी है.

अप्रैल में बढ़ी संक्रमितों की संख्या

दरअसल, दिल्ली (Delhi) में अप्रैल के पहले हफ्ते के बाद से कोरोना संक्रमण (Coronavirus) की रफ्तार बढ़ने लगी. ज्यादा संख्या में संक्रमितों की संख्या होने पर स्वास्थ्य सुविधाओं पर बोझ भी बढ़ने लगा. इसी के साथ दिल्ली में ऑक्सीजन उपकरणों की डिमांड बढ़ गई है. कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जहां समाज के सभी वर्ग अपने संसाधनों के साथ जुट गए, वहीं कुछ अराजक तत्वों ने इस मौके का भरपूर फायदा उठाने की कोशिश की. 

ऐसे लोगों ने बाजार में जरूरी उपकरणों और दवाओं की कृत्रिम कमी पैदा कर संकट के हालात उत्पन्न किए और फिर मुंहमागी कीमत पर बेचने लगे. ऐसे लोगों के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में दिल्ली पुलिस सर्च ऑपरेशन कर कार्रवाई करने में जुटी है.

अब तक जमाखोरी के कुल 82 केस दर्ज

13 अप्रैल से 6 मई के बीच दिल्ली पुलिस ने जमाखोरी और ब्लैक मार्केटिंग के कुल 82 केस दर्ज किए. इसके अलावा 283 केस धोखाधड़ी के सामने आए. इस दौरान पुलिस ने 153 लोगों को गिरफ्तार किया. जिनके पास से 454 रेमडेसिविर इंजेक्शन, 90 242 ऑक्सीजन सिलिंडर्स, 726 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स, 115 फ्लो रेगुलेटर्स, 49 ऑक्सीमीटर, 537 फायर सिलेंडर मशीन, 18 ऑक्सीजन पंप, 413 पल्स ऑक्सीमीटर बरामद किए.

ये भी पढ़िए- देश में बढ़ती महामारी पर Congress हुई हमलावर, कहा- मोदी सरकार निर्मित आपदा है कोरोना

कई डॉक्टर और बिजनेसमैन भी शामिल

हाल में हुई कार्रवाई के दौरान एक मामले में डॉक्टर और लैब असिस्टेंट तो दूसरे मामले में एक बिजनेसमैन का भी कनेक्शन सामने आया. चौंकाने वाली बात रही कि जरूरतमंदों की मदद के नाम पर धोखा देने का भी खेल चल रहा है. कुछ लोग ऑक्सीजन सिलेंडर के नाम पर आग बुझाने वाली मशीन फायर सिलेंडर बेचते मिले हैं. इस मामले में एपिडमिक एक्ट के तहत एक केस भी दर्ज हुआ है. नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की पैकिंग और बेचने के मामले भी सामने आए हैं.

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: