June 20, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

कोरोना वायरस के भारतीय स्ट्रेन को डब्ल्यूएचओ ने माना खतरनाक, कहा-तेजी से हो रहा ट्रांसमिट


डब्ल्यूएचओ में कोविड-19 तकनीकी दल से जुड़ीं डॉ मारिया वैन केरखोव ने सोमवार को कहा कि सबसे पहले भारत में सामने आए वायरस के स्वरूप बी.1.617 को पहले डब्ल्यूएचओ द्वारा ‘निगरानी स्वरूप’ की श्रेणी में रखा गया था.

फाइल फोटो





Source link

%d bloggers like this: