June 14, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

वैक्सीनेशन ड्यूटी के दौरान शिक्षिका की बिगड़ी तबीयत, अबतक नहीं मिल पा रहा इलाज


मनोज जैन/उज्जैन: मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में वैक्सीनेशन ड्यूटी में लगी टीमें कई दिनों से अपनी सेवा दे रही है. इन्हीं में से एक कोरोना वॉरियर शिक्षिका नजमा ब्रेन हेमरेज का शिकार हो गईं. लेकिन लोगों की सेवा में लगी शिक्षिका को खुद इलाज नहीं मिल पा रहा है. 

वह बीते पांच दिन से कोरोना अस्पताल माधवनगर में भर्ती थी.वहां उन्हें इलाज नहीं मिला और न कोई और अस्पताल उन्हें भर्ती करने को तैयार है. जैसे ही खबर मीडिया को मिली तो उन्हें तत्काल सिविल अस्पताल शिफ्ट कर दिया गया. नजमा की हालत बेहद नाजुक है. 

ये भी पढ़ें-मां की मौत के बाद बेटों ने अस्पताल में किया हंगामा, कोविड वार्ड के कांच भी तोड़े, वीडियो वायरल

नलिया बाखल स्थित कन्या मावि की शिक्षिका नजमा पति रमजान की छत्रीचौक डिस्पेंसरी में वैक्सीनेशन ड्यूटी के दौरान तबीयत बिगड़ी. पति रमजान खान के अनुसार डॉ. सोनाली अग्रवाल का इलाज कराया. कोरोना टेस्ट भी कराया. दो दिन बाद उनके सिर में तेज दर्द हुआ तो उन्हें कोरोना की शंका के चलते माधवनगर अस्पताल में भर्ती किया. इसके बाद एमआरआई करवाई तो पता चला कि उन्हें ब्रेन हेमरेज हुआ है. हालांकि कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई. गुरुवार से वह बेड पर बेसुध है और उनकी तबीयत लगातर बिगड़ रही है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने जाने नजमा के हाल
सिविल अस्पताल का एक वीडियो सामने आया है जिसमें नजमा की हालत बेहद नाजुक दिखाई दे रही है. वीडियो में देखा गया है कि नजमा तड़प रही है लेकिन कोई देखने वाला नहीं है. इस बात को लेकर कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता नूरी खान आज सिविल अस्पताल पहुंची और डॉक्टर के साथ जाकर नजमा का हाल जाना. लेकिन नजमा बेहोश हैं और ब्रेन हेमरेज का शिकार हुई है इस कारण कुछ भी समझने और बोलने की स्थिति में नहीं है. नूरी खान ने कहा है कि जब तक नजमा को निजी अस्पताल में भर्ती नहीं कराया जाता वह सिविल अस्पताल में धरने पर बैठेंगी. 

जब्कि डॉक्टर का कहना है कि सिविल अस्पताल में न्यूरो सर्जन नहीं है और नजमा की हालत खराब हो रही है. उनका ऑक्सीजन लेवल भी लगातार गिर रहा है. संभवतः उन्हें कोरोना के लक्षण भी हैं और जल्द ही उन्हें अन्य अस्पताल में इलाज के लेकर जाना चाहिए.  

नूरी खाना ने सरकार पर लगाए आरोप 
नूरी खान का कहना है कि सरकार की ड्यूटी निभाते हुए नजमा को ब्रेन हेमरेज हुआ है, उसी सरकार ने उसे यंहा अकेला छोड़ दिया और अस्पताल में इलाज का आभाव है. 





Source link

%d bloggers like this: