June 23, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

अनाथों के नाथ बनेंगे शिवराज मामा, बच्चों के लालन-पालन को हर माह देंगे 5 हजार रुपये, मुफ्त शिक्षा भी


भोपाल: कोरोना महामारी के बीच अनाथ हो रहे बच्चों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को बड़ी घोषणा की है. उन्होंने कहा कि जो बच्चे अपने माता-पिता या अभिभावकों को कोरोना महामारी में खो रहे हैं, उन्हें मुफ्त शिक्षा और 5,000 रुपये मासिक पेंशन के रूप में प्रदान किए जाएंगे. मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य सरकार उन लोगों को सरकारी गारंटी पर ऋण देगा जो काम करना चाहते हैं.

इंदौर में कालाबाजारी करने वालों की चल-अचल संपत्ति पर चलेगा बुलडोजर

5000 पेंशन हर माह
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, “हम इस कोरोना महामारी में अपने माता-पिता / अभिभावकों को खोने वाले बच्चों को 5000 रुपये प्रति माह पेंशन देंगे. हम इन बच्चों के लिए मुफ्त शिक्षा और मुफ्त राशन की भी व्यवस्था भी करेंगे. ताकि बच्चों को जीवन यापन के लिए परेशान ना होना पड़े ऐसे सभी बच्चों के शिक्षा का निशुल्क प्रबंध किया जाएगा ताकि वह अपनी पढ़ाई लिखाई जारी रख सकें.

परीक्षाओं के लिए जल्द निर्णय
राज्य सरकार ने COVID-19 मामलों में लगातार वृद्धि के कारण कक्षा 10 और कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाओं को भी स्थगित कर दिया है. बता दें कि 10 और 12 की परीक्षाएं 30 अप्रैल और 1 मई से आयोजित होने वाली थीं. इस संबंध में जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि मध्य प्रदेश बोर्ड ने कक्षा 10 और कक्षा 12 परीक्षा के वैकल्पिक तरीकों पर विचार कर रहा है और जल्द ही कक्षा 10, 12 बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के संबंध में किसी निर्णय की घोषणा करेगा.

पूर्व पार्षद बोले- मुस्लिम दुकानदारों पर कार्रवाई मत करो, निगम अधिकारी ने दिया ऐसा जवाब, बौखला गए नेताजी

कोरोना के 1 लाख सक्रिय मामले
गौरतलब है कि राज्य में कोरोना के 8970 नए मामले सामने आए हैं. यहां सक्रिय मामले 1 लाख 9 हजार 928 हैं. पिछले 24 घंटे में स्वस्थ होने वालों की संख्या 10324 है, वहीं सक्रिय मामलों की संख्या में 1438 की कमी आई है. प्रदेश में कोरोना की वृद्धि दर 1.6 प्रतिशत और साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 16.5 फीसद है.

WATCH LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: