June 19, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Punjab Government का बड़ा फैसला, Corona में अनाथ हुए बच्चों को ग्रेजुएशन तक मिलेगी फ्री शिक्षा


चंडीगढ़: पंजाब सरकार (Punjab Government) ने कोरोना महामारी (Corona) के दौरान अनाथ हुए बच्चों के साथ-साथ घर के कमाने वाले सदस्य की मौत पर परिवारों को 1500 रुपये महीना सामाजिक सुरक्षा पेंशन और ग्रेजुएशन तक निशुल्क शिक्षा देने का गुरुवार को फैसला किया है.

सीएम अमरिंदर ने कही ये बात

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने कहा कि उनकी सरकार ऐसे बच्चों के साथ-साथ उन परिवारों के बच्चों के लिए सरकारी संस्थानों में निशुल्क शिक्षा सुनिश्चित करेगी, जिन्होंने कोविड की वजह से कमाऊ सदस्य को खो दिया है. उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चों का पालक बनना राज्य का कर्तव्य है, जिन्होंने अपने माता-पिता दोनों को कोविड-19 महामारी में खो दिया है.

ये भी पढ़ें:- Royal Enfield की इन बाइक्स में हो सकता है शॉर्ट सर्किट, कंपनी ने वापस मंगाई 2.36 लाख यूनिट

आर्शीवाद योजना के तहत मिलेगा लाभ

सिंह ने कहा कि प्रभावित व्यक्ति एक जुलाई से आशीर्वाद योजना के तहत 51,000 रुपये के पात्र होंगे और उन्हें राज्य स्मार्ट राशन कार्ड योजना के तहत मुफ्त राशन मिलेगा और वे सरबत सेहत बीमा योजना के पात्र होंगे. इससे पहले आशीर्वाद योजना के तहत गरीब परिवार को लड़की की शादी के लिए 51,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती थी, जबकि ‘सरबत सेहत बीमा योजना’ के तहत प्रति परिवार प्रति वर्ष पांच लाख रुपये का पात्रता आधारित कैशलेस स्वास्थ्य बीमा कवर मिलता है.

ये भी पढ़ें:- टैक्सपेयर्स के लिए खुशखबरी, इस महीने तक बढ़ाई गई ITR फाइल करने की आखिरी तारीख

नौकरी दिलाने में सहायता करेगी सरकार

मुख्यमंत्री ने उच्च स्तरीय कोविड समीक्षा बैठक के बाद कहा कि राज्य सरकार ‘घर-घर रोजगार ते कारोबार मिशन’ के तहत प्रभावित परिवार के सदस्यों को उपयुक्त नौकरी खोजने में भी सहायता करेगी. अनाथों को 21 वर्ष की आयु तक राहत उपाय प्रदान किए जाएंगे. सिंह ने कहा कि जिन परिवारों में कमाऊ व्यक्ति की मौत हो गई है, उनमें राहत उपाय शुरुआती तौर पर तीन साल तक दिए जाएंगे और फिर स्थिति की समीक्षा की जाएगी और जहां हालात खराब होंगे वहां पर इनका विस्तार कर दिया जाएगा. मुख्यमंत्री ने हर एक मामले की प्रगति और राहत उपायों की समीक्षा के लिए एक निगरानी समिति के गठन की भी घोषणा की जिसकी अगुवाई सामाजिक, सुरक्षा और महिला एवं विकास मंत्री करेंगे. उन्होंने कहा कि समिति महीने में कम से कम एक बार बैठक करेगी.

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: