June 19, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

गजबः इस किसान ने खुद के घर को ही बनाया कंटेनमेंट जोन, एक साल का राशन भी जमा कर लिया


धार: मध्य प्रदेश के धार जिले में धीरे-धीरे कोरोना की रफ्तार कम हो रही है. जिसमें शासन-प्रशासन के अलावा लोगों ने भी जागरूकता के साथ काम किया है, तो कई जगह से लापरवाही हो की तस्वीर भी सामने आई. अब धार जिले के एक गांव से एक सुखद तस्वीर सामने आई है. जहां पर एक किसान ने सुरक्षा के तौर पर अपने घर को कंटेनमेंट जोन में तब्दील कर दिया.

GRMC ग्वालियर में 238 स्टाफ नर्स के पदों पर भर्ती, 2 जून तक करें अप्लाई

दरअसल धार की टकरावदा में किसान प्रकाश कामदार ने सुरक्षा के तौर पर अपने मकान के बाहर जाली लगा दी. इस भवन में दो भाइयों का परिवार रहता है. जिसमें महिलाएं, पुरुष बच्चे सब मिलाकर 10 सदस्य रहते है. 

अपना घर सुरक्षित किया
मकान मालिक किसान प्रकाश कामदार का कहना हैं कि कोरोना वायरस बढ़ रहा है, और उसे रोकने के लिए शासन प्रशासन के साथ लोगों का भी सहयोग जरूरी है. लिहाजा उन्होंने खुद को जाली लगाकर खुद और परिवार को सुरक्षित कर लिया है. किसान का कहना है कि वह ना तो बाहर जाते हैं और ना ही किसी को अपने घर आने देते है. जब बहुत जरूरी हो तो ही घर से बाहर निकलते है.

1 साल का राशन जमा
जानकर हैरानी होगी कि प्रकाश पाटीदार ने एक वर्ष का राशन भी कोरोना कर्फ़्यू के पहले ही जमा कर लिया था. लिहाजा ना राशन की चिंता ना दूसरी परेशानी की चिंता. किसान का कहना है कि सुरक्षित रहना है तो सोशल डिस्टेंसिंग बहुत जरूरी है.  

शटर गिराकर आपत्तिजनक हालत में मिला दुकानदार, हिंदू संगठन ने कर दी पिटाई

ऐसे प्रयास से ही कोरोना दूर होगा
वहीं धार कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने किसान प्रकाश कामदर के कार्य की प्रशंसा की और कहा कि ऐसे ही छोटे-छोटे प्रयास से जिला कोरोना वायरस से मुक्त होगा. कलेक्टर ने कहा कि लोगों को आगे आकर शासन प्रशासन का सहयोग करना चाहिए. जिससे हमको कोरोना से जंग जीतने में मदद मिलेगी. कलेक्टर आलोक कुमार सिंह किसान प्रकाश कामदार की सराहना करते हुए कहा कि इनके साथ ऐसे कई लोग हैं जो रियल हीरो हैं और उनका सम्मान जिला प्रशासन आगामी दिनों में करेगा. आपको बता दें टकरावदा गांव में 1200 सौ की आबादी और गांव में अब तक 30 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं, जबकि इस गांव में 4 लोगों की जान जा चुकी.

WATCH LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: