June 23, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

CM शिवराज ने PM मोदी से की फोन पर बात, इस अहम मुद्दे पर हुई दोनों नेताओं की चर्चा


भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार अलर्ट बने हुए हैं. आज मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच फोन पर चर्चा हुई. जिसमें दोनों नेताओं के बीच प्रदेश में कोरोना की स्थिति पर चर्चा हुई. इसके अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर चर्चा कर उन्हें प्रदेश में ब्लैक फंगस बीमारी की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया. सीएम शिवराज ने प्रदेश में ब्लैक फंगस बीमारी की रोकथाम और उपचार के लिए की जा रहीं व्यवस्थाओं के संबंध में प्रधानमंत्री मोदी को जानकारी दी. जिस पर पीएम ने भी सीएम को सहयोग का भरोसा दिया है. 

पीएम ने दिया सहयोग का भरोसा 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को मध्य प्रदेश में ब्लैक फंगस बीमारी रोकथाम और उपचार के लिए हरसंभव मदद का भरोसा दिया है. जिस पर सीएम ने पीएम का आभार जताया. पीएम से चर्चा के बाद सीएम ने कहा कि मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में लगातार सफलता प्राप्त हो रही है. प्रदेश में पॉजिटिविटी दर लगभग 7 प्रतिशत हो गई है साथ ही एक्टिव केसेस की संख्या भी लगातार कम हो रही है. सीएम ने बताया कि  मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि यह आंकड़े कोरोना रोकथाम में मात्र केवल एक पड़ाव दर्शाते है मंजिल नहीं है. कोरोना मुक्त प्रदेश के निर्माण के लिए अभी हमें लंबा सफर तय करना है, जिसमें लापरवाही की कोई गुंजाइश नहीं है. 

एमपी में बढ़ रहे हैं ब्लैक फंगस के मामले 
दरअसल, मध्य प्रदेश में कोरोना के बीच ब्लैक फंगस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. जिससे सरकार की चिंता भी बढ़ी हुई हैं. ऐसे में इसकी रोकथाम के लिए भी सरकार ने प्रदेश के चारों बड़े शहरों के अलावा दूसरे शहरों में भी तैयारियां शुरू कर दी है. जिसके बाद आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सीएम से चर्चा कर ब्लैक फंगस की जानकारी ली. 

ये भी पढ़ेंः MP की सियासत में हनीट्रैप की वापसी, VD शर्मा ने कमलनाथ पर लगाया यह आरोप, जानिए पूरा मामला

संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए जनता का सहयोग है आवश्यकः सीएम 
मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहा कि बिना जनता के सहयोग के इस महामारी से नहीं लड़ा जा सकता. इसी सहयोग की आपूर्ति के लिए प्रदेश के हर गाँव एवं विकासखंड में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप बनाए गए हैं.  क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य जनता को जागरूक कर कोरोना की रोकथाम में उनका सहयोग लेते रहें. 

मध्य प्रदेश कोरोना के कुल एक्टिव केस 
मध्य प्रदेश में 20 मई को रिकॉर्ड 78,268 सैंपल टेस्ट की रिपोर्ट आई. इसमें 4,384 पॉजिटिव केस मिले. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए हैं कि टेस्ट की संख्या बढ़ाई जाए. इसी का परिणाम है कि प्रदेश में रैपिड एंटीजन टेस्ट की संख्या में इजाफा हुआ है. 20 मई को RT-PCR टेस्ट 31,846 टेस्ट में 3,332 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. जबकि रैपिड एंटीजन के 46,422 टेस्ट में मात्र 1,052 संक्रमित मिले. प्रदेश में एक्टिव केस घट कर 67 हजार 425 हो गए हैं. स्वास्थ्य विभाग की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक इंदौर में 937, भोपाल में 609, ग्वालियर में 195 और जबलपुर में 279 नए संक्रमित मिले हैं. ऐसे में प्रदेश में टेस्टिंग की संख्या भी बढ़ाई जाएगी. 

ये भी पढ़ेंः किसके लिए बेहतर है covishield और किन्हें लगवानी चाहिए Covaxin, जानें डॉक्टरों की राय

WATCH LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: