June 19, 2021

Sirfkhabar

और कुछ नहीं

Coronavirus का खात्मा करेगी ‘Antibody Cocktail दवा’? 59,750 रुपये रखी गई है प्रति डोज की कीमत


नई दिल्ली: कोरोना महामारी से निपटने के लिए दवा कंपनियां नई-नई दवाएं मार्केट में उतार रही हैं. अब प्रमुख दवा कंपनी रोश इंडिया (Roche India) और सिप्ला (Cipla) ने मिलकर एंटीबॉडी बनाने वाली दवा का कॉकटेल पेश करने की घोषणा की है. इस दवा की प्रति डोज की कीमत 59,750 रुपये रखी गई है. 

इन दो कंपनियों ने पेश की दवा

जानकारी के मुताबिक यह दवा कोरोना से गंभीर रूप से जूझ रहे मरीजों के लिए होगी. सिप्ला और रोश ने एक संयुक्त बयान में कहा, ‘एंटीबॉडी कॉकटेल (Antibody Cocktail) कैसिरिविमैब और इमदेविमाब (Casirivimab and Imdevimab) की पहली खेप भारत में उपलब्ध करा दी गई है. जबकि दूसरी खेप जून के मध्य तक उपलब्ध हो जाएगी. कुल मिलाकर इन खुराकों से दो लाख मरीजों का इलाज किया जा सकेगा.’

केवल 59,750 रुपये रखी गई कीमत

बयान में कहा गया है कि इस दवा की प्रति डोज की कीमत 59,750 रुपये रखी गई है. इस कीमत में सभी तरह के कर शामिल हैं. वहीं इस दवा के मल्टी डोज पैक की कीमत 1 लाख 19 हजार 500 रुपये रखी गई है. इस कीमत में सभी प्रकार के टैक्स शामिल हैं. इस मल्टी डोज पैक से 2 मरीजों का इलाज हो सकता है. बयान में कहा गया है कि यह दवा सभी बड़े अस्पतालों और कोरोना अस्पतालों में उपलब्ध होगी. भारत में इस दवा का वितरण सिप्ला कंपनी की ओर से किया जाएगा. 

जानकारी के मुताबिक हाल में द सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन (CDSCO) ने इस दवा के भारत में इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है. इससे पहले अमेरिका और यूरोप के कई देश भी इस कॉकटेल ड्रग को अपनी इमरजेंसी मंजूरी दे चुके हैं.

सत्तर फीसदी मौतें कम होने का दावा

Roche Pharma India के सीईओ V Simpson Emmanuel ने कहा कि इस एंटीबॉडी कॉकटेल (Antibody Cocktail) के इस्तेमाल से भारत में कोरोना मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत काफी कम पड़ेगी. वे घर पर ही इस दवा से इलाज करके ठीक हो सकेंगे. इससे भारत के स्वास्थ्य ढांचे को भी काफी राहत मिलेगी. 

उन्होंने बताया कि यह एंटीबॉडी कॉकटेल हल्के से मध्यम श्रेणी के कोरोना मरीजों के लिए होगी. इसका इस्तेमाल 18 साल के ऊपर के अडल्ट कर सकेंगे. उन्होंने दावा किया कि इस दवा के इस्तेमाल से मौतों में करीब 70 फीसदी तक की कमी आ जाएगी. 

ये भी पढ़ें- Sputnik V: भारत में हर साल 30 करोड़ टीकों का होगा उत्पादन, इन दो कंपनियों ने मिलाया रूस से हाथ

DRDO भी पेश कर चुकी है दवा

बताते चलें कि इससे पहले DRDO भी इम्युनिटी पावर बढ़ाने वाली दवा 2 DG को कोरोना मरीजों के लिए लॉन्च कर चुकी है. लॉन्चिंग के वक्त इस दवा के 10 हजार पैकेट जारी किए गए थे. अगले महीने इस दवा का उत्पादन बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है. इसके लिए केंद्र दवा का फॉर्म्यूला बांटकर तीन-चार कंपनियों से इसका उत्पादन करवाने की योजना बना रही है. 

LIVE TV





Source link

%d bloggers like this: