दुमका में मिनी गन फैक्ट्री का भांडाफोड़, कई अर्द्धनिर्मित पिस्टल बरामद, बिहार के मुंगेर से जुड़े तार


Dumka: दुमका में मिनी गन फैक्ट्री का भांडाफोड़ किया गया है. पुलिस ने अवैध फैक्ट्री से कई अर्धनिर्मित हथियार बरामद किए हैं. पुलिस ने इस मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार भी किया है. इस मिनी गन फैक्ट्री के तार बिहार के मुंगेर से भी जुड़े हैं. 

दुमका पुलिस ने शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के पत्ताबाड़ी गांव के पास छापा मारा, और लेद मशीन की आड़ में चल रहे मिनी गन फैक्ट्री का पर्दाफाश किया. पुलिस ने छापेमारी में अर्धनिर्मित 24 पिस्टल, पिस्टल बनाने की लेड मशीन, जनरेटर, 12 पीस पिस्टल का बैरल,पिस्टल की अर्धनिर्मित बॉडी, गैलेंडर मशीन, ड्रिल मशीन, 3 मोबाइल, एक स्कूटी और 60 हजार रुपया जब्त किया है. इसके साथ ही पुलिस ने 6 आरोपी को गिरफ्तार किया है.

पुलिस के मुताबिक बिहार के मुंगेर का अरुण कुमार, श्रीराधे रिबोरिंग नाम से लेद मशीन चला रहा था. जिसकी आड़ में वह हथियार बनवाता था. अरुण कुमार अपने सहयोगी रणधीर कुमार,नीलेश कुमार, मेसर खान, मोहम्मद डाबला शेख के सहयोग से लेद मशीन में पिस्टल बनाने का काम कर रहा था. 

अरुण कुमार अवैध फैक्ट्री में बनाए अर्धनिर्मित पिस्टल को 2500 रुपये की लागत से बिहार के विभिन्न जिलों में अपने कॉन्टेक्ट के हवाले से बेच दिया करता था. वह यह कारोबार फरवरी 2021 के आसपास से ही कर रहा था. इस दौरान आरोपियों ने कई खेप पिस्टल बनाकर बिहार भेजा था.

पुलिस को जब इसके बारे में गुप्त सूचना तो कार्रवाई करते हुए फैक्ट्री पर छापा मारा गया. जिसके बाद वहां मौजूद सभी आरोपी भागने लगे, लेकिन पुलिस ने सभी आरोपियों को खदेड़ कर पकड़ लिया. 

इस अवैध मिनी गन फैक्ट्री के तार बिहार से जुड़ने के बाद पुलिस अब आगे की जांच कर रही है, और इस नेक्सस में शामिल अन्य लोगों के सुराग खोजने में जुट गयी है.

(इनपुट: सुबीर चटर्जी)



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.