भारत टैलेंट का पॉवर हाउस, विकास में दुनिया बने साझेदार: PM नरेंद्र मोदी


नई दिल्ली: दुबई एक्सपो 2020 (Dubai Expo 2020) में भारत के पवेलियन के शुभारंभ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा, भारत इस एक्सपो में सबसे बड़े पवेलियन में से एक के साथ भाग ले रहा है. मुझे यकीन है कि यह एक्सपो यूएई और दुबई के साथ हमारे गहरे और ऐतिहासिक संबंधों को और मजबूत करने में काफी मदद करेगा. उन्होंने कहा, भारत अवसरों का देश है. भारत आएं और इन अवसरों का पता लगाएं.

‘भारत आएं और विकास गाथा का हिस्सा बनें’

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कहा, एक्सपो में खुलापन, अवसर और विकास भारत की थीम है. तमाम देशों को भारत में आने और निवेश करने के लिए आमंत्रित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, भारत आएं और हमारी विकास गाथा का हिस्सा बनें. उन्होंने कहा, भारत अपनी जीवंतता और विविधता के लिए प्रसिद्ध है. प्रतिभाओं का महाशक्ति है भारत. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, पिछले 7 वर्षों में भारत सरकार ने आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए कई सुधार किए हैं. इस समय भारत अमृत महोत्सव मना रहा है. आइये विश्व को एक सर्वश्रेष्ठ स्थान बनाए.

ढाई करोड़ से ज्यादा लोगों के आने की उम्मीद

बता दें, कोरोना के चलते 2020 के एक्सपो का आयोजन 2021 में हो रहा है. 6 महीने का ये इवेंट, 31 मार्च 2022 तक चलेगा. दुबई एक्सपो 2020 में 192 देश में भाग ले रहे हैं. इस बार दुबई एक्सपो में भारत का दम पूरी दुनिया देख रही है, क्योंकि भारत का पवेलियन सबसे बड़ा है. पवेलियन से भारत के ग्लोबल लीडर की तस्वीर दिखेगी. सेंट्रल गुंबद बनाने में 550 टन स्टील का इस्तेमाल किया गया  है. एक्सपो भारत की मौजूदा प्रगति के साथ-साथ यह भी दिखा रहा है कि वह कैसे ग्लोबल लीडर बन रहा है. एक्सपो में ढाई करोड़ से ज्यादा लोगों के आने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें: Dubai Expo 2020 EXCLUSIVE: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल बोले- दुनिया देखेगी भारत की ताकत

भारतीय पवेलियन पर दुनिया की नजर

दुबई एक्सपो में भारतीय पवेलियन जरिए भारत को विकास और नवाचार के एक बड़े केंद्र के रुप में प्रदर्शित किया गया है. इसमें खुलापन, संभावनाएं और वृद्धि को खास स्तंभ के रूप में रखा गया है. एक अक्टूबर से 31 मार्च 2022 तक चलने वाले इस मेगा एक्सपो में भारतीय पवेलियन पूरी दुनिया को आकर्षित कर रहा है. ये पवेलियन 500 करोड़ रुपये से बना है. भारत के पवेलियन में आत्मनिर्भर भारत, स्पेस टेक्नोलॉजी, हेल्थकेयर की झलक देखी जा सकती है. इसमें 600 ब्लॉक और चार तल बनाये गये हैं जिनमें भारत की आर्थिक प्रगति को प्रदर्शित किया गया है.

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.