रामायण सर्किट पथ का निर्माण कार्य कब होगा पूरा? मंत्री नितिन नवीन ने कही ये बड़ी बात


Patna: बिहार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने यहां शुक्रवार को कहा कि बिहार की सड़कों की स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है. उन्होंने कहा कि रामायण सर्किट पथ (Ramayan Circuit Path) एक से ढेड़ वर्ष में पूरा हो जाएगा. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रदेश कार्यालय में संवाददताओं से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि रामायण सर्किट से जोड़ने वाली सड़क को आमस-दरभंगा पथ के पार्ट को तीन स्तर पर वैशाली, राजगीर, बोधगया से जोड़ा जाएगा.

‘एक से डेढ़ वर्ष में पूरा हो जाएगा रामायण सर्किट पथ का काम’
उन्होंने भरोसा जताते हुए कहा कि रामायण सर्किट पथ एक से डेढ़ वर्ष में पूरा हो जाएगा. मंत्री ने बताया कि नवादा से लदनिया पथ को भारत-माला प्रोजेक्ट में लेने का प्रस्ताव दिया गया है. इसके अलावे इंडो-नेपाल पथ (Indo-Nepal Path) को फोर लेन करने का प्रस्ताव तथा भारतमाला प्रोजेक्ट (Bharatmala Project) से जोड़ने का प्रस्ताव भी दिया गया है. 

ये भी पढ़ें-नीतीश कैबिनेट ने 18 एजेंडों पर लगाई मुहर, OBC-EBC कल्याण विभाग में 446 पदों के सृजन को मंजूरी

‘उत्तर बिहार के सड़कों में हुआ काफी सुधार’
नितिन नवीन (Nitin Navin) ने बताया कि भारत माला सड़क के निर्माण में नेपाल से सैद्घांतिक सहमति भी मिल गई है. पथ निर्माण मंत्री नवीन ने पूछे गये प्रश्नों के उत्तर में कहा कि उत्तर बिहार के सड़कों में काफी सुधार हुआ है, दक्षिण बिहार में भी सड़के बन रही है. सड़कों के रख-रखाव की समस्या को दूर करने का लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. 

‘पटना-रांची सड़क के निर्माण में 3 चरणों में काम चल रहा’
उन्होंने बताया कि पटना-रांची सड़क के निर्माण में तीन चरणों में काम चल रहा है. उन्होंने स्वीकार करते हुए कहा कि जमीन की समस्या के कारण काम की गति धीमी हुई थी, लेकिन पटना उच्च न्यायालय (Patna High Court) के संज्ञान के बाद तथा विभाग के द्वारा किए जा रहे प्रयास से जमीन का मामला भी समाप्त हो गया है. उन्होंने विश्वास जताते हुए कहा कि इस सड़क के निर्माण में अब गति आएगी.

ये भी पढ़ें-बिहार-झारखंड के छात्रों के पास सरकारी नौकरी हासिल करने का मौका, निकली बंपर वैकेंसी, यहां करें अप्लाई 

‘अवैध कब्जा की समस्या समाप्त हो जाएगी’
मंत्री ने कहा कि राज्य में बिहार पुल रख-रखाव (मेंटेनेंस) पॉलिसी लाने जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस पॉलिसी के आने के बाद पुल के नीचे अवैध कब्जा की समस्या समाप्त हो जाएगी. नितिन नवीन ने कहा कि पुलों पर रोशनी की व्यवस्था सहित पुलों को सुंदर और स्वस्थ दिखे इस ओर में विभाग की तैयारी चल रही है. 

(इनपुट-आईएएनएस)



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *