Nobel Peace Prize 2021 किसको मिलेगा? इन नामों की हो रही चर्चा


स्टेवेंगर: शांति को बढ़ावा देने के प्रयासों के लिए हर साल दिये जाने वाले नोबेल शांति पुरस्कारों (Nobel Peace Prize) को लेकर चर्चा शुरू हो गई है. हालांकि नोबेल समिति ने अभी ऐसा कोई संकेत नहीं दिया है कि किस व्यक्ति या ग्रुप को इस सम्मान से नवाजा जायेगा. पिछले एक दशक में इस पुरस्कार से राजनयिकों, चिकित्सकों और कई राष्ट्रपति को सम्मानित किया गया है और इस साल के लिए भी कई नॉमिनेशन मिले हैं जिनमें कई संगठन और व्यक्ति शामिल हैं.

WHO भी रेस में

नोबेल शांति पुरस्कार (Nobel Peace Prize) के लिए नॉमिनेटेड ग्रुप में कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) से निपटने में अपनी भूमिका के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) भी शामिल है, यानी कि WHO को भी यह पुरस्कार मिल सकता है. ओस्लो स्थित ‘पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट’ के निदेशक हेनरिक उरदल का कहना है कि इस साल के पुरस्कार के लिए महामारी एक महत्वपूर्ण पृष्ठभूमि है. नोबेल शांति पुरस्कार 2021 के उम्मीदवारों में बेलारूस की निर्वासित विपक्षी नेता स्वेतलाना तिखनोस्काया और रूसी विपक्षी नेता अलेक्सी नवलनी भी शामिल हैं.

इन नामों की भी चर्चा

तिखनोस्काया ने 2020 में बेलारूस में शांतिपूर्ण विरोध का नेतृत्व किया, उनके नाम की चर्चा सबसे ज्यादा है. जेल में बंद रूसी विपक्षी नेता अलेक्सी नवलनी भी विजेता हो सकते हैं. नोबेल शांति पुरस्कार की घोषणा 8 अक्टूबर को की जाएगी. नोबेल पुरस्कारों की घोषणा की शुरुआत चार अक्टूबर को ‘मेडिकल के लिए नोबेल पुरस्कार’ के साथ शुरू होगी. पांच अक्टूबर को फिजिक्स, छह अक्टूबर को केमिस्ट्री, सात अक्टूबर को साहित्य और 11 अक्टूबर को अर्थशास्त्र के लिए नोबेल पुरस्कार की घोषणा की जायेगी. शांति और अन्य नोबेल पुरस्कार हर साल 10 दिसंबर को दिए जाते हैं.

यह भी पढ़ें: जानवरों से इंसानों में फैलने वाला संक्रमण पहले ही आ सकता है पकड़ में, नई स्टडी में दावा

क्या है नोबेल पुरस्कार

नोबेल फाउंडेशन द्वारा स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की याद में वर्ष 1901 में शुरू किया गया यह शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में विश्व का सर्वोच्च पुरस्कार है. इस पुरस्कार के रूप में प्रशस्ति-पत्र के साथ 10 लाख डॉलर की राशि प्रदान की जाती है. अल्फ्रेड नोबेल ने कुल 355 आविष्कार किए जिनमें डायनामाइट का आविष्कार भी था. दिसंबर 1896 में मौत से पहले अल्फ्रेड नोबेल ने अपनी संपत्ति का एक बड़ा हिस्सा एक ट्रस्ट के लिए सुरक्षित रख दिया. उनकी इच्छा थी कि इस पैसे के ब्याज से हर साल उन लोगों को सम्मानित किया जाए जिनका काम मानव जाति के लिए सबसे कल्याणकारी पाया जाए. स्वीडिश बैंक में जमा इसी राशि के ब्याज से नोबेल फाउंडेशन द्वारा हर वर्ष शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान और अर्थशास्त्र में सर्वोत्कृष्ट योगदान के लिए यह पुरस्कार दिया जाता है. 

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.