SSC CGL Exam के नोटिफिकेशन को लेकर महत्वपूर्ण अपडेट, जानिए कैसे करें परीक्षा की तैयारी


SSC CGL Exam Date 2022: बिहार-झारखंड के छात्रों के लिए रोजगार से जुड़ी बड़ी खबर है. दरअसल, प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए SSC-CGL एग्जाम का नोटिफिकेशन इसी महीने में जारी हो सकता है. हालांकि, SSC की तरफ से फिलहाल एग्जाम की तारीख और नोटिफिकेशन को लेकर कोई आधिकारिक सूचना जारी नहीं हुई है. ऐसे में कैंडीडेट के पास परीक्षा तैयारी का भरपूर समय बचा है. 

    महत्‍वपूर्ण तारीखें (Important Dates for SSC-CGL Exam)

  • SSC की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी होगा नोटिफिकेशन.
  • अक्‍टूबर 2021 तक नोटिफिकेशन जारी होने की संभावना. 
  • नवंबर 2021 से ऑनलाइन रजिस्‍ट्रेशन की प्रक्र‍िया शुरू होगी. 
  • मई या जून 2022 को एसएससी-सीजीएल का एग्‍जाम होने की संभावना.
  • मई 2022 को  SSC-CGL का एडमिट कार्ड (SSC-CGL Admit Card) जारी हो सकता है.

योग्‍यता (Eligibility Criteria)
उम्मीदवार का किसी भी विषय से स्नातक होना जरूरी है

पहली बार में एग्जाम क्रैक करने के इन बातों पर दें ध्यान

1. सिलेबस पर रखें ध्यान 
परीक्षार्थी सिलेबस को अच्छी तरह से पढ़ें. क्योंकि एग्जाम में पूछे जाने वाले सवाल सिलेबस से ही होंगे. सिलेबस के मुताबिक तैयारी करने से परीक्षार्थी ज्यादा से ज्यादा सवालों के उत्तर दे पाएंगे.

2. पिछले सालों के पेपर तैयारी में बहुत मददगार
अगर आप के पास पिछले साल के पेपर हैं तो तैयारी में बहुत मददगार होगा. इससे आपको यह अंदाजा लग जाएगा कि परीक्षा में किसी पैटर्न पर कैसे प्रश्‍न पूछे जाएंगे. इसके अलावा यह भी पता चलेगा कि आपकी तैयारी कैसी चल रही है.  

3.पढ़ाई के लिए बनाएं प्लान
किसी भी एग्जाम की तैयारी के लिए टाइम टेबल बनाकर पढ़ाई करना हमेशा लाभकारी होता है. परीक्षार्थी सिलेबर के अनुसार, प्लान करके पढ़ाई करें तो उन्हे एग्जाम क्रैक करने में बहुत हद तक आसानी हो सकती है. पढ़ाई के लिए टाइम टेबल हमेशा मददगार साबित होता है. 

ये भी पढ़ें-बिहार-झारखंड के छात्रों के पास पोस्टल सर्किल में नौकरी करने का मौका, 81000 तक है वेतन, जानें पूरी Detail

 

4.सही किताबों का करें चयन
इन सब बातों के साथ ये भी महत्‍वपूर्ण है कि आप तैयारी के लिए सही किताबों का चयन करें. एसएससी सीजीएल परीक्षा की तैयारी के नाम पर मार्केट में आपको बहुत सी किताबें मिल जाएंगी, लेकिन उसमें से तैयारी के लिये कौन सी बेहतर है, यह सोच-समझकर तय करें और जरूरत के अनुसार, किसी विशेषज्ञ से सलाह भी ले लें.

5.टाइम मैनेजमेंट (Time Management)
अपने टार्गेट को प्राप्त करने के लिए परीक्षार्थियों को महत्वपूर्ण विषयों के लिए उचित समय आवंटित करने की आवश्यकता है. सबसे पहले आप कमजोर क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करें और उन्हें सुधारने में अपना अधिक समय बिताने की कोशिश करें. जो विषय आपका मजबूत हैं उनके अभ्यास में थोड़ा कम समय खर्च करें. इस तरह के सवालों को हल करने में 1 मिनट से अधिक न लगाएं.

6.शॉर्टकट मेथड्स (Short Cut Method) सीखें
गणना की गति बढ़ाने के लिए छात्रों को शॉर्टकट तरीकों और चालों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए जिससे परीक्षा में कठिन सवालों को हल करने में कम समय लगे. सटीकता और तेजी से प्रश्नों को हल करने के लिए ट्रिक्स की प्रैक्टिस और पहाड़ों, वर्गमूलों, क्यूब्स व वर्गों आदि को याद करने का प्रयास करें.

ये भी पढ़ें-बिहार के छात्रों के लिए बड़ी खबर, बीपीएससी 65वीं के परिणाम को लेकर दिया बड़ा Update, आयोग ने दी ये बड़ी जानकारी

 

7.ज्‍यादा से ज्‍यादा मॉक टेस्‍ट (Mock Test) दें
छात्रों को सफलता इस बात पर भी निर्भर करती है कि आपने कितनी प्रैक्‍ट‍िस की है. ज्‍यादा से ज्‍यादा मॉक टेस्‍ट दें. इससे आपकी स्‍पीड बढ़ेगी और पूरी प्रैक्‍ट‍िस हो जाएगी. मॉक टेस्‍ट जितना ज्‍यादा देंगे, आपकी सफलता उतनी ही ज्‍यादा सुनिश्‍च‍ित होगी.

8.सिलेबस ( SSC-CGL Syllabus) के सभी हिस्‍से को मजबूत करें
उम्मीदवार सिलेबस के किसी हिस्‍से में अगर आप कमजोर पड़ रहे हैं तो उस पर ध्‍यान दें. अभी आपके पास तैयारी के लिये बहुत समय बचा हुआ है. इसलिये कमजोर क्षेत्रों को ज्‍यादा समय दें. परीक्षा की तैयारी का स्‍ट्रेस तो होगा, लेकिन स्‍ट्रेस को हैंडल करना सीखें. बीच बीच में कुछ हल्‍का गेम खेलें, वीडियो देखें या दोस्‍तों से बात कर लें.



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *