काम या संस्थान के प्रति वफादार होना कितना जरूरी? हॉवर्ड बिजनेस रिव्यू की रिपोर्ट से खुलासा


नई दिल्ली: अपने संस्थान और काम दोनों के प्रति वफादार होने के कई फायदे हैं. इसके बिना लोग आप पर कम विश्वास करते हैं. किसी के प्रति ज्यादा वफादार (Loyalty) होना और आंख बंद करते हुए वफादारी दिखाने (Blind Faith) जैसी बातों को दरकिनार नहीं किया जा सकता है. दरअसल हावर्ड बिजनेस रिव्यू की एक स्टडी में खुलासा हुआ है कि ज्यादा वफादार लोगों में अपनी नौकरी और हितों को बचाए रखने के लिए संस्थान में गलत काम करने की संभावना ज्यादा होती है. इसी तरह ऐसे लोगों का ऑफिस में उत्पीड़न होने के चांस भी दूसरों की तुलना में ज्यादा होते हैं.

आप क्या कर सकते हैं?

ऐसे में बड़ा सवाल ये उठता है कि वर्क प्लेस पर ऐसे कई जोखिमों को कम करते हुए वफादारी के फायदे हासिल करने के लिए आप क्या कर सकते हैं? सबसे पहले, आपको इस वफादारी से होने वाले नफे-नुकसान की समझ होनी चाहिए. इसी विषय को लेकर हावर्ड यूनिवर्सिटी के हालिया रिव्यू पेपर में और क्या कुछ सामने आया है, आइये बताते  हैं.

वफादार होने के फायदे

जब कर्मचारी वफादार होते हैं, तो उन्हें और उनके संगठनों दोनों को फायदा होता है. वफादारी के ‘बाध्यकारी प्रभाव’ के कारण वफादार कर्मचारी दूसरों के साथ मजबूत बॉन्डिंग रखते हैं. जो किसी संस्थान के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए काफी अहम होती है. नियोक्ता के प्रति वफादार रहने से आप खुद का प्रदर्शन सुधारने के साथ नौकरी से संबंधित तनाव भी कम कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें- 

इसी तरह आप अपने बेहतर भविष्य के लिए नए अवसर खोज सकते हैं. जब आप ऑफिस के प्रति वफादारी दिखाते हैं तो प्रमोशन के चांस बढ़ जाते हैं या विशेष कार्य अवसरों पर आपको खास प्राइज से सम्मानित किया जा सकता है. यानी आप अपनी नौकरी से संतुष्ट और खुश होने की संभावना रखते हैं जिससे आप न केवल भौतिक, बल्कि मनोवैज्ञानिक लाभ भी प्राप्त करते हैं.

अधिक वफादार होने के जोखिम

जब आप अपने संगठन के प्रति वफादार होते हैं, तो आम तौर पर आप और आपके संस्थान दोनों की स्थिति बेहतर होगी. वहीं ये भी सच है कि अगर इसी ‘वफादारी’ को सही तरह से अमल में नहीं लाया गया तो इससे अनैतिक व्यवहार को बढ़ावा मिलता है. उदाहरण के लिए, शोध से पता चला है कि जो कर्मचारी अपने संगठनों के प्रति बहुत अधिक वफादार होते हैं, उनके भ्रष्टाचार पर अक्सर कम ध्यान दिया जाता है.

ऑफिस में इनका ध्यान भी रखें

अपनी वफादारी के स्तर का सही प्रबंधिन करें. अगर आपको कुछ अनैतिक या गलत दिखता है तो फौरन आवाज़ उठाएं. काम में प्रतिस्पर्धा की भावना के बजाए आपसी सहयोग पर फोकस करें. अपना दृष्टिकोण बदलें. अगर आप भी इन चीजों का ध्यान रखकर अपने करियर को चमकाने के साथ नई उंचाइयों पर ले जा सकते हैं.

 

 

 



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.