पांच हजार से अधिक शिक्षकों पर लटकी कार्रवाई की तलवार, सरकार की तरफ से जारी हुआ ये आदेश


Patna: राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण 2021 (National Achievement Survey 2021) के दौरान राज्य के 5,667 विद्यालयों में जो शिक्षक अनुपस्थित रहे थे, उनके लिए मुसीबत बढ़ सकती है. उनके वेतन में कटौती की जाएगी. इसके लिए शिक्षा विभाग ने मूल्यांकन सर्वे में अनुपस्थित रहे शिक्षकों की रिपोर्ट मांगी है. 

बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा 12 नवंबर को राष्ट्रीय स्तर पर ये सर्वेक्षण कराया गया था, जिसमे 5,727 विद्यालयों में शामिल थे. अपरिहार्य कारणों से 60 विद्यालय को सर्वे में शामिल नहीं किया गया था. शिक्षा विभाग द्वारा तैयार कराई गई जिलेवार रिपोर्ट में सर्वे से जुड़े विद्यालयों के एक लाख 70 हजार 875 बच्चे शामिल हुए थे, जिनकी मूल्यांकन रिपोर्ट अप्रैल में केंद्र सरकार की ओर से जारी की जाएगी. 

ये भी पढ़ें: CISF जवान की पत्नी की हत्या के मामले का हुआ खुलासा, पति सहित 5 आरोपी गिरफ्तार

इस सर्वे में अररिया में 4,965, अरवल में 3,357, औरंगाबाद में 4,526, बांका में 4,131, बेगूसराय में 4,923, भागलपुर में 4,722, भोजपुर में 4,974, बक्सर में 4,839, दरभंगा में 4,820, गया में 4,899, गोपालगंज में 4,896, जमुई में 3,893, जहानाबाद में 4,016, कैमुर में 4,115, कटिहार में 4,372 और खगड़‍िया से 4,252 बच्‍चे शामिल हुए। वहीं, किशनगंज में 4,446, लखीसराय में 3,782, मधेपुरा में 3,688, मधुबनी में 5,086, मुंगेर में 4,149, मुजफ्फरपुर में 4,306, नालंदा में 5,378, नवादा में 3,838, पश्चिम चंपारण में 4,378, पूर्णिया में 4,590, पटना में 6,123, पूर्वी चंपारण में 4,378, रोहतास में 4,973, सहरसा में 4,306, समस्तीपुर में 4,603, सारण में 4,838, शेखपुरा में 3,468, शिवहर में  3,209, सीतामढ़ी में 5061, सिवान में 4,770, सुपौल में 4,456 और वैशाली में 4,352 बच्चे शामिल हुए थे. 

 



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *