बिहार पंचायत चुनाव: जीत के लिए उम्मीदवार का अनोखा कारनामा, अंगारे पर चलकर दी अग्नि परीक्षा


Gopalganj: बिहार में चल रहे पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Chunav) को लेकर विभिन्न पदों पर चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी मतदाताओं का विश्वास जीतने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं. इस दौरान प्रत्याशी मतदाताओं से कई तरह के लोकलुभावन वादे भी कर रहे हैं.

अंगारे पर चलकर दिलाया वादा निभाने का विश्वास
इस बीच, बिहार के गोपालगंज जिले के शेर पंचायत में एक अनोखा मामला सामने आया, जहां मुखिया पद के एक प्रत्याशी ने आग (अंगारे) पर चलकर लोगों को वादा निभाने का विश्वास दिलाया. गोपालगंज जिले के सिधवलिया प्रखंड क्षेत्र के शेर ग्राम पंचायत में नौवें चरण के तहत 29 नवंबर को मतदान होना है. इसे लेकर विभिन्न पदों पर किस्मत आजमा रहे सभी प्रत्याशी अपनी पूरी ताकत झोंक रहे हैं.

ये भी पढ़ें- शराब ने उजाड़ी परिवार की खुशियां, शहनाई गूंजने से पहले पसरा मातमी सन्नाटा

जीतने के बाद करेंगे बेहतर काम!
इस सिलसिले में शेर पंचायत में मुखिया पद के लिए भाग्य आजमा रहे मुन्ना महतो ने आग (अंगारे) पर चलकर किए गए वादे को निभाने का वादा किया. उन्होंने खुद को देवी मां का भक्त बताते हुए कहा कि उन्होंने अग्नि पर चलकर अग्नि परीक्षा दी है, कि वे जीतने के बाद बेहतर काम करेंगे.

‘जो वादा कर रहा हूं, वह निभाउंगा’
इस दौरान बड़ी संख्या में उपस्थित लोग जयकारा भी लगाते रहे. उन्होंने कहा कि अन्य प्रत्याशी चुनाव में किए गए वादे को भूल जाते होंगे, लेकिन मैं भूलने वाला नहीं हूं. जो वादा कर रहा हूं, वह निभाउंगा.

शक्ति की ताकत से जीतेंगे चुनाव 
पहली बार किसी भी चुनाव मैदान में उतरे मुन्ना प्रतिदिन देवीस्थान पर मां देवी की पूजा-अर्चना करते हैं. इस देवी स्थान पर प्रतिदिन लोगों की भीड लगती है. इस दौरान प्रत्याशी मुन्ना बताते हैं कि वे जब तक चुनाव नहीं जीतेंगे, तब तक देवी की अराधना करते रहेंगे. उन्होंने अपनी जीत का दावा करते हुए कहा कि शक्ति की ताकत से ही वे चुनाव जीत जाएंगें.

ये भी पढ़ें- नकल करने से रोकने पर छात्रों ने दी प्राचार्य को जान से मारने की धमकी, शिकायत दर्ज

उनकी इस अग्नि परीक्षा को देखने के लिए लोगों की भीड एकत्रित थी, जो जयकारा लगाती रही. देवी स्थान परिसर में पहले एक त्रिकोण गड्ढा बनाया गया और उसमें फिर अंगारे डाले गए और उसपर फिर यह खाली पैर चले.

चुनाव बना रोचक 
इधर, मुन्ना के चुनाव मैदान में उतरने के बाद चुनाव भी रोचक हो गया है. ग्रामीण भी कहते हैं कि ये पहले भी देवीस्थान पर रहकर पूजा पाठ करते रहे हैं. गांव वाले भी इनमें श्रद्धा रखते हैं. गांव वाले हालांकि मतदान को लेकर कुछ भी खुलकर नहीं बोल रहे हैं.

बहरहाल, चुनाव परिणाम आने के बाद ही तय होगा कि मुन्ना चुनाव जीत पाते हैं या नहीं, लेकिन इनके चुनाव मैदान में उतरने से लोगों का चुनाव के प्रति आकर्षण बढ़ गया है. उल्लेखनीय है कि बिहार में 11 चरणों में पंचायत चुनाव हो रहे हैं.

(इनपुट- आईएएनएस)



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *