चुनाव से पहले इस पार्टी में विरासत को लेकर जंग, केंद्रीय मंत्री के परिवार में विवाद


लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आगामी विधान सभा चुनाव से पहले अपना दल के संस्थापक सोनेलाल पटेल (Sonelal Patel) की विरासत को लेकर पार्टी में जंग तेज हो गई है. सोनेलाल पटेल की चार बेटियों में एक अमन पटेल ने अपनी ही बड़ी बहन पल्लवी पटेल पर गंभीर आरोप लगाते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को पत्र लिखा है और मां कृष्णा पटेल की सुरक्षा की गुहार लगाई है.

गृह मंत्री को लिखा गया लेटर

अमित शाह को लिखे पत्र में अमन पटेल ने पल्लवी पर पिता की संपत्ति हड़पने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी मां कृष्णा पटेल के साथ ‘कभी भी अप्रिय घटना’ हो सकती है. पत्र में उन्होंने अमित शाह से कृष्णा पटेल को सुरक्षा मुहैया कराने का अनुरोध किया है.

ये भी पढ़ें- CM योगी ने PM के साथ शेयर की फोटो, लिखा- जिद है एक सूर्य उगाना है

अन्याय के विरुद्ध ‘हर जंग’ लड़ेंगे- अमन पटेल

इस बारे में जब अमन पटेल से बात की गई तो उन्होंने अमित शाह को पत्र लिखे जाने की पुष्टि की और कहा कि वह अपने साथ हो रहे अन्याय के विरुद्ध ‘हर जंग’ लड़ेंगी. अमन पटेल ने एक ऐसा ही पत्र उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को भी लिखा था.

ज्ञात हो कि सोनेलाल पटेल ने 1995 में अपना दल का गठन किया था. वह अपने समय के जाने-माने नेता थे और पूर्वी उत्तर प्रदेश में कुर्मी समुदाय में उनकी खासी पैठ थी. साल 2009 में सोनेलाल पटेल के निधन के बाद पार्टी की कमान उनकी पत्नी कृष्णा पटेल के हाथों में आ गई थी. बाद में पारिवारिक मतभेदों के कारण बेटी अनुप्रिया पटेल ने 2016 में अपनी अलग पार्टी अपना दल (सोनेलाल) बना ली. पारिवारिक लड़ाई अदालत में भी पहुंची.

ये भी पढ़ें- Amazon का भारत में गैरकानूनी काम, खुलेआम बेच रहा गांजा; जानें इसे लेकर क्या है कानून

विवादों के चलते कृष्णा पटेल ने अपना दल (कमेरावादी) नाम से एक नई पार्टी बना ली. इस लड़ाई के बीच अनुप्रिया पटेल ने अपनी राजनीतिक पहचान स्थापित की. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी से गठबंधन किया और चुनाव जीतने के बाद केंद्र सरकार में मंत्री भी बनीं. वर्तमान में वह वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री हैं.

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *