बड़ी खबरः एमपी में सब कुछ खुल गया, जानिए कब पूरी क्षमता के साथ खुलेंगे स्कूल


भोपालः मध्य प्रदेश में कोरोना के चलते लगाए गए सभी प्रतिबंध खत्म कर दिए गए हैं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी प्रतिबंध हटाने की घोषणा कर दी है, ऐसे में अब स्कूलों को लेकर भी बड़ा फैसला किया गया है. हालांकि प्रदेश में स्कूल और कॉलेज तो पहले ही खुल गए हैं लेकिन अब प्रदेश में पूरी क्षमता के साथ स्कूल खोलने पर भी सहमति लगभग बन चुकी है, इसको लेकर प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने बड़ा बयान दिया है. 

पूरी क्षमता के साथ खुलेंगे स्कूल 
मध्य प्रदेश में 1 से लेकर 5वीं क्लास तक के पेरेंट्स अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए तैयार हो जाएं. क्योंकि पूरी क्षमता से स्कूल खोले जाने संबंधी प्रस्ताव मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पास भेजा जा चुका है. प्रस्ताव भेजे जाने के बाद प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने रविवार देर शाम एक बयान भी जारी किया. उन्होंने बताया कि जब परिस्थितियां खराब थीं तो ऑनलाइन पढ़ाई का विकल्प चुना था. अब परिस्थितियां ठीक हैं, इसलिए पूरी क्षमता के साथ स्कूल खुलेंगे. मंत्री के इस बयान से साफ है कि प्रदेश में जल्द ही स्कूल पूरी क्षमता के साथ खोले जाएंगे. 

स्कूल शिक्षा मंत्री ने ट्वीट कर बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की समीक्षा कर प्रदेश में कोविड-19 के सारे प्रतिबन्धों को समाप्त किया है. परीक्षा के लिए समय कम है इसलिए सभी शिक्षक और अभिभावक बच्चों को कक्षा में अच्छे से पढ़ाये एवं उन्हें उत्साहित करें. मंत्री ने कहा कि कोरोना के चलते सभी प्रतिबंध लगाए गए थे. लेकिन बाद में जब कोरोना का प्रभाव कम हुआ तो स्कूलों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोलने के निर्देश दिए गए थे. 

इंदर सिंह परमार ने बताया कि अभी तक कोरोना के प्रतिबंध लागू थे, लेकिन अब इन्हें खत्म कर दिया गया है. ऐसे में स्कूल भी पूरी क्षमता के साथ खोलने का निर्णय लिया गया है. उन्होंने कहा कि परीक्षा के लिए समय कम बचा है. इसलिए छात्र-छात्राएं भी परीक्षा के लिए पूरी तैयारियां अब अच्छे से शुरू कर दें कि क्योंकि समय बहुत कम है. क्योंकि ऑनलाइन पढ़ाई एक विकल्प के तौर पर शुरू हुई थी. लेकिन हालात सामान्य होने के बाद स्कूल पूरी क्षमता के साथ खोलें जाएंगे. 

बताया जा रहा है कि अब मध्य प्रदेश में कक्षा 1 से लेकर कक्षा 5वीं तक के स्कूल खोलने पर भी निर्णय हो जाएगा. क्योंकि अभी तक 5वीं से आगे वाली क्लासों के स्कूल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोले जा रहे थे. लेकिन अब छोटे बच्चों के स्कूल भी खोले जाएंगे. 

50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुल रहे थे स्कूल 
बता दें कि मध्य प्रदेश में फिलहाल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल खुल रहे थे. इस दौरान ऑनलाइन पढ़ाई का विकल्प भी रखा गया था. लेकिन अब पूरी क्षमता के साथ स्कूल खोलने के लिए प्रदेश के स्कूल संचालकों को तैयार रहने के निर्देश दे दिए गए हैं. 

ये भी पढ़ेंः MP के इस जिले में स्थापित होगी सुषमा स्वराज की प्रतिमा, सीएम शिवराज ने किया बड़ा ऐलान

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *