किसानों को स्‍मार्टफोन खरीदने के लिए यहां सरकार देगी पैसा, पढ़ लें पूरा प्‍लान


नई दिल्लीः दिल्ली समेत देश के विभिन्न हिस्सों में करीब एक साल से जारी किसान आंदोलन के बाद केंद्र सरकार ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान कर दिया है. इसके बाद से राज्य सरकारें भी किसानों को लुभाने में जुटी हुई हैं. अब गुजरात सरकार ने किसानों को स्मार्टफोन (Smartphone) खरीदने के लिए 1500 रुपये प्रति परिवार मदद देने की घोषणा की है.  

केवल गुजरात के किसानों के लिए योजना

गुजरात (Gujarat) के किसान कल्याण और सहकारिता विभाग की ओर से जारी सर्कुलर के मुताबिक यह योजना केवल राज्य के किसानों के लिए है. गुजरात में जिन किसानों के पास अपनी जमीन है, वे इस स्कीम का लाभ उठा सकते हैं. वे अपनी पसंद का कोई भी स्मार्टफोन (Smartphone) खरीद सकते हैं. उस फोन की कुल कीमत का 10 प्रतिशत (1500 रुपये तक) सरकार की ओर से किसान को दिए जाएंगे. बाकी पैसे किसान को खुद देने होंगे. 

योजना के मुताबिक प्रति परिवार केवल किसान को इस योजना का लाभ मिलेगा. प्रति संयुक्त जोत वाले मामले में भी केवल एक लाभार्थी को स्कीम का लाभ मिलेगा. विभाग के मुताबिक इस स्कीम का फायदा उठाने के लिए गुजरात (Gujarat) के भूमिधारक किसान आई-खेदूत पोर्टल के जरिए सरकार को आवेदन कर सकते हैं. 

खाते में पहुंचेंगे 1500 रुपये

आवेदन स्वीकृत होने के बाद किसान को स्मार्टफोन (Smartphone) खरीदना होगा. उसके बाद किसान को स्मार्टफोन के खरीद बिल की एक प्रति, मोबाइल का आईएमईआई नंबर, एक रद्द चेक और अन्य आवश्यक दस्तावेज विभाग में जमा कराने होंगे. इसके बाद 1500 रुपये की धनराशि उसके खाते में पहुंच जाएगी. 

ये भी पढ़ें- LPG Subsidy: बड़ी खबर! रसोई गैस सिलेंडर पर फिर शुरू हुई सब्सिडी! खाते में आए पैसे, ऐसे करें चेक

पावर बैंक चार्जर का पैसा नहीं मिलेगा

विभाग ने स्पष्ट किया है कि इस स्कीम में केवल स्मार्टफोन (Smartphone) की कीमत शामिल है. इसमें पावर बैंक, इयरफोन, चार्जर और दूसरी चीजें शामिल नहीं हैं. सरकार का कहना है कि जब किसानों के पास अपने स्मार्टफोन हो जाएंगे तो वे खेती में नई तकनीकों के इस्तेमाल, मौसम के पूर्वानुमान और बीज-फसल के बारे में जानकारी हासिल कर सकेंगे. फोन आने के बाद वे राज्य और केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं में भी अप्लाई कर सकेंगे. 

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *