मनी लॉन्ड्रिंग केस में IREO ग्रुप और डायरेक्टर के ठिकानों पर ED की छापेमारी


नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ED) की टीम ने दिल्ली और गुरुग्राम में M/s IREO Pvt Ltd और उसके डायरेक्टर ललिल गोयल के ठिकानों पर छापेमारी की है. ये छापेमारी मनी लॉड्रिंग मामले में की गई. ईडी ने ललित गोयल के अलावा M/s Madeira Conbuild Pvt Ltd, M/s Global Estate और इनके डायरेक्टर जय भरत अग्रवाल, अनुपम नागलिया, मधुकर तुलसी और CA अनिल कुमार गोयल के घर और दफ्तरों पर भी छापेमारी की.

14 लाख विदेशी करंसी और दस्तावेज जब्त

ईडी ने इनके यहां से छापेमारी के बाद संपति के दस्तावेज, विदेशी निवेश से जुड़े दस्तावेज, 14 लाख रुपये की विदेशी करंसी और इलैक्ट्रोनिक गैजेट्स भी जब्त किए हैं. ED ने M/s IREO Pvt Ltd के डायरेक्टर के खिलाफ फ्लैट खरीदारों से करोड़ों की धोखाधड़ी के आरोप में मनी लॉड्रिग का मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया था.

बीते 16 नवंबर को दिल्ली एयरपोर्ट से हुई इस गिरफ्तारी के वक्त कंपनी का डायरेक्टर देश छोड़कर भागने की कोशिश कर रहा था. मनी लॉडिंग का ये मामला हरियाणा के पंचकूला, दिल्ली की आर्थिक अपराध शाखा और हौज खास में दर्ज मामलों के आधार पर किया गया था.

हाउसिंग प्रोजक्ट चलाती है कंपनी

IREO ग्रुप के हरियाणा के गुरुग्राम और दूसरी जगहों में काफी सारे हाउसिंग प्रोजेक्ट्स हैं और आरोप है कि ललित गोयल ने फ्लैट खरीदारों को फ्लैट देने का झांसा देकर उनसे लिये पैसे विदेशों में निवेश किये और प्रोजेक्ट को पूरा नहीं किया.

ED की अब तक की जांच में पता चला है कि ललित गोयल ने करीब 2600 करोड़ रुपये फर्जी कंपनियों के जरिये विदेशों में भेजे और फिर उस में से काफी सारी रकम को Tax Heavens Countries, British Virgin Island, Mauritius जैसे देशों के जरिये वापस देश में लाए. ये पैसे शेयर खरीदने, खातों में फर्जी एंट्री, प्रोजेक्ट को चलाने के नाम पर और दूसरी कंपनियों को बिना ब्याज के पैसे देने जैसे नाम पर वापस लाए गए.

ये भी पढ़ें: यूपी में BJP के पास सबसे ज्यादा दागी MLA, 2 मंत्री हैं कर्जदार; रिपोर्ट से खुलासा

जांच में ये भी पता चला कि ललित गोयल का नाम Pandora Papers Leak में भी आया था और पता चला था कि गोयल ने इंग्लिश चैनल में बसे आइलैंड Guernsey में एक ट्रस्ट के जरिये विदेशों में निवेश किया है. वहीं से उन पैसों को संभालता है. ललित गोयल के नाम चार ऐसी कंपनियां है जो British Virgin Island (BVI) में रजिस्ट्रर्ड हैं और USD 77.73 Million यानी 575 करोड़ रुपये जमा हैं.



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *