इस लड़की ने पहले ही अटेम्प्ट में पास कर ली UPSC परीक्षा, ऐसे की थी तैयारी; सिर्फ 22 की उम्र में बनी IAS


नई दिल्ली: यूपीएससी एग्जाम (UPSC Exam) को सबसे कठीन परीक्षाओं में से एक माना जाता है और अक्सर कहा जाता है कि इसकी तैयारी के लिए सबकुछ छोड़कर पढ़ाई करनी पड़ती है. हालांकि कुछ स्टूडेंट्स ऐसे भी होते हैं जो इंजीनियरिंग के साथ-साथ यूपीएससी की सिविल सर्विस एग्जाम (CSE) भी क्लियर कर लेते हैं. ऐसी ही कहानी ओडिशा की रहने वाली सिमी करन (Simi Karan) की है, जिन्होंने आईआईटी से इंजीनियरिंग के दौरान यूपीएससी एग्जाम की तैयारी की और पहले प्रयास में ही सिविल सर्विस परीक्षा पास कर आईएएस अफसर बन गईं.

छत्तीसगढ़ से की थी शुरुआती पढ़ाई

सिमी करन (Simi Karan) मूल रूप से ओडिशा की रहने वाली हैं, लेकिन उनका पूरा बचपन छत्तीसगढ़ के भिलाई में बीता. सिमी के पापा डीएन करन भिलाई स्टील प्लांट में काम करते हैं और उनकी मां सुजाता भिलाई के दिल्ली पब्लिक स्कूल में टीचर हैं. उन्होंने 12वीं तक की पढ़ाई भिलाई कि दिल्ली पब्लिक स्कूल से की. सिमी पढ़ाई में हमेशा से अच्छी स्टूडेंट रही और हर क्लास में उनके अच्छे नंबर आते थे. उन्होंने बारहवीं क्लास में 98.4 प्रतिशत नंबर लाकर पूरे स्टेट में टॉप किया था.

ये भी पढ़ें- TV देखकर की UPSC Exam की तैयारी, पहले प्रयास में हासिल की 5वीं रैंक; फिर बनीं IAS

12वीं के बाद इंजीनियरिंग

द बेटर इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, शुरुआत में सिमी करन (Simi Karan) की सिविस सर्विस में जाने की कोई योजना नहीं थी और इसलिए उन्होंने 12वीं के बाद आईआईटी का एंट्रेंस दिया. इसके बाद उनका सेलेक्शन आईआईटी बॉम्बे के लिए हुआ और वह इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने लगीं.

यूपीएससी में कैसे हुआ आकर्षण

इंजीनियरिंग के दौरान इंटर्नशिप के वक्त सिमी करन (Simi Karan) पास के स्लम एरिया में बच्चों को पढ़ाने गईं तो उनके मन में लोगों की मदद करने का विचार आया. इसके बाद उनके मन में किसी ऐसे क्षेत्र को ज्वॉइन करने का विचार आया, जिसके जरिए अभावग्रस्त लोगों की मदद की जा सके. फिर उन्होंने सिविल सर्विस में जाने का फैसला किया.

ये भी पढ़ें- UPSC Exam के दौरान पिता को हुआ कैंसर, फिर भी नहीं हारी हिम्मत; सिर्फ 22 साल की उम्र में IAS बनी ये लड़की

ऐसे की यूपीएससी एग्जाम की तैयारी

सिमी करन (Simi Karan) ने ग्रेजुएशन के आखिरी साल में यूपीएससी एग्जाम (UPSC Exam) की तैयारी शुरू की और सेल्फ स्टडी करने का फैसला किया. सिमी कहती हैं कि उन्होंने सबसे पहले टॉपर्स के इंटरव्यू देखें और इंटरनेट की सहायता से अपने लिए कितावों की लिस्ट तैयार की. तैयारी के लिए जो स्टैंडर्ड बुक्स आती हैं, उनका चुनाव किया और हमेशा इस बात का ध्यान रखा कि किताबें सीमित रखकर बार-बार रिवीजन करना है. तैयारी के लिए उन्होंने यूपीएससी के सिलेबस को छोटे-छोटे हिस्सों में कनवर्ट कर लिया, ताकि सिलेबस बोझ ना बने. उनका कहना है कि एग्जाम की तैयारी के लिए ज्यादा से ज्यादा रिविजन जरूरी है.

IAS Officer Simi Karan Success Story

एक ही साल में क्लियर की IIT और UPSC परीक्षा

सिमी करन (Simi Karan) ने बिना कोचिंग ज्वाइन किए सेल्फ स्टडी कर पहले ही प्रयास में यूपीएससी एग्जाम पास कर लिया. सिमी बताती हैं कि आईआईटी मुंबई से उनका ग्रेजुएशन मई 2019 में खत्म हुआ और जून में यूपीएससी की परीक्षा थी. उनके पास फाइनल तैयारी के लिए बहुत कम समय था, लेकिन कड़ी मेहनत के साथ स्मार्ट तरीके से की गई पढ़ाई काम आई और पहले प्रयास में ही यूपीएससी एग्जाम पास कर लिया.

ये भी पढ़ें- इंटरनेट से तैयारी कर 4 बार फेल हुई ये लड़की, पांचवीं बार मिली 10वीं रैंक; फिर बनीं IAS

सिर्फ 22 साल की उम्र में बनीं आईएएस अफसर

सिमी करन (Simi Karan) ने यूपीएससी की सिविल सर्विसेज एग्जाम-2019 (UPSC CSE 2019) में ऑल इंडिया में 31वीं रैंक हासिल की. सिमी महज 22 साल की थीं, जब उन्होंने सिविल सर्विस की परीक्षा पास की और आईएएस अफसर बनीं.

लाइव टीवी



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *