UP Police SI Exam 2021: गोरखपुर में 15 लाख में दारोगा बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, STF ने तीन को दबोचा


गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में यूपी एसीटीएफ को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड की ओर से आयोजित उपनिरीक्षक नागरिक पुलिस एवं समकक्ष पदों की सीधी भर्ती ऑनलाइन परीक्षा-2021 में फर्जीवाड़ा करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया है. सॉल्वर गैंग से जुड़े 3 जालसाजों को गिरफ्तार किए गए है. सब-इंस्पेक्टर की भर्ती परीक्षा में सेंटर हेड ही पैसा लेकर सॉल्वर से परीक्षा सॉल्व करवा रहा था थे. तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है.

प्रति अभ्यर्थी से लिए गए 15 लाख रुपये
एसटीएफ ने इस गैंग का पर्दाफाश करते हुए देवरिया बाइपास तिराहे के पास से 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. ये तीनों NSEIT के परीक्षा केंद्र या लैब में कैंडीडेट्स से रुपये लेकर उन्हें नकल कराने की तैयारी कर रहे थे. जानकारी के मुताबिक प्रति अभ्यर्थी से 15 लाख रुपये लिए गए. टीम ने उनके पास से 61 सौ रुपये नकद सहित 3 मोबाइल फोन, आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड और पैनकार्ड बरामद किए. एसटीएफ ने तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

बहराइच: अपने बेटे को लेकर दवाई लेने जा रही थी महिला, पीछे से तेज रफ्तार बस ने रौंदा, दोनों की मौके पर मौत

एसटीएफ को सूचना मिली थी कि उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड की ओर से आयोजित उपनिरीक्षक नागरिक पुलिस एवं अन्य पदों की सीधी भर्ती ऑनलाइन परीक्षा-2021 में गोरखपुर में बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़ा की तैयारी है.सूचना पर टीम एक्टिव हुई तो पता चला कि अश्वनी दूबे केंद्र संचालक, माडेंटो वेन्चर्स प्राइवेट लिमिटेड, अनुभव सिंह, क्लस्टर हेड एनएसईआईटी गोरखपुर, आशीष शुक्ला, केंद्र संचालक कैवेलियर एनीमेशन सेंटर एनएसईआईटी गोरखपुर, दीपक, दिवाकर उर्फ रिन्टू एवं सेनापति, केन्द्र संचालक सिद्धि विनायक ऑनलाइन सेंटर गोरखपुर, नित्यानन्द गौड़, संतोष यादव, रजनीश दीक्षित, केन्द्र संचालक ओम ऑनलाइन सेन्टर मिलकर नकल कराने की योजना बना रहे हैं. 

पूछताछ में पता चला कि इन्होंने दो लोगों से पैसा लेकर उन्हें परीक्षा में बैठाया भी था. पूछताछ के दौरान आरोपियों ने  बताया कि यह लोग अभ्यार्थियों से रुपये वसूल कर उन्हें परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्र के लैब या फिर अलग कमरे में बैठाकर नकल कराते हैं।हालांकि एसटीएफ अभी उसकी जांच कर रही है. पकड़े गए आरोपितों के खिलाफ रामगढ़ताल थाने में केस दर्ज कराया गया है.

कानपुर में दो दिन रहेंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, MI-17 हेलिकॉप्टर की ट्रायल लैंडिंग करेगी एयरफोर्स, जोरों पर तैयारियां

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *