तीसरी लहर की आशंका के बीच कोरोना ने बढ़ाई टेंशन, मेडिकल कॉलेज के 66 छात्र संक्रमित


धारवाड़: ऐसे समय में जब कोरोना (Coronavirus) का प्रकोप कम हो रहा है और जीवन लगभग सामान्य हो रहा है कर्नाटक के धारवाड़ में एक मेडिकल कॉलेज में पढ़ने वाले 66 छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. सभी छात्र एसडीएम मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस कर रहे हैं. उनमें से लगभग 40 छात्र कुछ दिन पहले कॉलेज परिसर में आयोजित एक पार्टी में शामिल हुए थे. सभी छात्रों ने टीकाकरण की दोनों खुराक ली थीं और उनमें कोविड-19 के कोई लक्षण नहीं दिख रहे हैं.

हॉस्टल में किए गए क्वारंटीन

धारवाड़ के एसडीएम मेडिकल कॉलेज में कोरोना पॉजिटिव पाए गए सभी छात्रों को उनके हॉस्टल के कमरों में क्वारंटीन किया गया है और उन पर नजर रखी जा रही है. जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ यशवंत मदनीकर ने हॉस्टर का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया. सभी छात्रों का कोविड टेस्ट किया गया है. पूरा कैंपस सेनेटाइज करवाया गया है और पूरे परिसर को सील कर दिया गया है. स्वास्थ्य विभाग लोगों से बार-बार अपील कर रहा है कि सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी न करें और सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का इस्तेमाल करें.

देश में मिले इतने संक्रमित

वहीं देश भर में एक दिन में कोविड-19 के 9,119 नए मामले सामने आने के बाद कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,45,44,882 हो गई. इलाज करा रहे मरीजों की संख्या घटकर 1,09,940 हो गई, जो 539 दिन में सबसे कम है. संक्रमण से 396 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,66,980 हो गई है. देश में लगातार 48 दिन से कोविड-19 के दैनिक मामले 20 हजार से कम हैं और 151 दिन से 50 हजार से कम दैनिक मामले सामने आ रहे हैं. मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.33 प्रतिशत है, जो मार्च 2020 के बाद से सर्वाधिक है.

यह भी पढ़ें: चन्नी सरकार के खिलाफ सिद्धू ने फिर खोला मोर्चा; बेअदबबी, ड्रग्स केस को लेकर किया ये ऐलान

इतने लोगों की हो चुकी है मौत

आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण से अभी तक कुल 4,66,980 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से महाराष्ट्र के 1,40,807 लोग, केरल के 38,353 लोग, कर्नाटक के 38,185 लोग, तमिलनाडु के 36,415 लोग, दिल्ली के 25,095 लोग, उत्तर प्रदेश के 22,909 लोग और पश्चिम बंगाल के 19,419 लोग थे. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक जिन लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण से मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं. 

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *