Jaipur के कोटपूतली में दलितों की बारात पर पथराव, बारातियों को लगी चोट


Jaipur: जिले के कोटपूतली (Kotputli News) के राजनोता गांव में पुलिस के भारी जाप्ते के बीच बारातियों पर ताबड़तोड़ पथराव कर दिया गया. बताया गया बीती रात कैरोडी गांव में 4 थानों के भारी पुलिस जाप्ते के बीच कुछ असामाजिक तत्वों ने एक परिवार की खुशियां तनाव में तब्दील कर दी. एक दलित परिवार (Dalit Family) का दुल्हा गांव में बारात लेकर पहुंचा लेकिन गांव के ही कुछ असामाजिक तत्वों को दूल्हे का घोड़ी पर बैठना नागवार गुजरा और भरी पूरी बारात पर ताबड़तोड़ पथराव कर दिया.

इस बीच चार थानों की पुलिस (Police) बारातियों को घायल होने से बचा नहीं पाई. परिजनों के अनुसार पुलिस अपने आप को बचाती नजर आई. परिजनों का आरोप है कि करीब 10 दिन पहले घटना का अंदेशा जताते हुए पुलिस को सूचना दे दी गई थी. बावजूद इसके मौके पर महिलाओं की सुरक्षा हेतु महिला कॉन्स्टेबल (lady constable) तक का इंतजाम नहीं किया गया. परिवार व बाराती पुलिस अभिरक्षा (Police custody) में कुछ समाज कंटकों की तुच्छ कुरीति का शिकार हो गए. 

यह भी पढ़ें- स्कूलों में कोरोना का कहर, एक बार फिर 6 बच्चे पॉजिटिव, 24 घंटे में 17 केस

बाद में मामला इतना बिगड़ा की मौके पर आनन-फानन में जयपुर ग्रामीण एसपी (Jaipur Rural SP) मनीष अग्रवाल व क्षेत्रीय विधायक इंद्राज गुर्जर (Indraj Gurjar) को पहुंचकर परिजनों व बारातियों से समझाइश करनी पड़ी. और रात 1:00 बजे बाद दूल्हा-दुल्हन फेरों के मंडप तक पहुंच पाए. घटना के बाद से दलित समाज में आक्रोश है. हालांकि पुलिस प्रशासन (Police Administration) ने अब थोड़ी राहत की सांस ली है. जयपुर ग्रामीण एसपी मनीष अग्रवाल ने भरोसा दिलाया है कि अपराधियों को शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

वहीं, प्रशासन की मौजूदगी में देर रात दूल्हा-दुल्हन का पानीग्रहण संस्कार संपन्न किया गया. लेकिन बड़ा सवाल यही है कि क्यों और कैसे चार-चार थानों के भारी पुलिस के बीच एक परिवार पर पत्थरों की बारिश हो जाती है और समाज कंटक मौके से पुलिस की मौजूदगी में फरार हो जाते हैं. इससे साफ प्रतीत होता है अपराधियों व समाज कंटको में पुलिस का डर नहीं रहा, जिसके कारण इतनी बड़ी घटना घटी. 

यह भी पढ़ें- फोर्टी यूथ आईकॉन अवार्ड समारोह का आयोजन, राणे बोले- मुंबई के विकास में राजस्थानियों की बड़ी भूमिका

हालांकि पुलिस का कहना है कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार (Arrest) कर लिया जाएगा. जिसके आश्वाशन के बाद बारात ने खाया और वर वधु के फेरे सम्पन्न हुए. वहीं, आने वाले 28 नवम्बर को इसी घर में दुल्हन के दो भाइयों की शादी है. उसमें भी परिवार ने शादी के लिए पुलिस प्रसाशन से सुरक्षा की गुहार लगाई है. अब 28 तारीख को देखना होगा पुलिस प्रसाशन शादी में अपनी पूरी जिमेवारी निभा पाता है या नहीं.
Report – AMIT YADAV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *